Top
Begin typing your search...

नई प्राइवेसी पॉलिसी पर WhatsApp ने दी अब सफाई, उठ रहे कई सवालों के दिए जवाब

कंपनी ने नई पॉलिसी को लेकर लोगों के मन में जो शंकाएं उसे दूर करने के लिए कई सवालों के जबाव दिए हैं.

नई प्राइवेसी पॉलिसी पर WhatsApp ने दी अब सफाई, उठ रहे कई सवालों के दिए जवाब
X

कंपनी ने कहा है कि आपके सेंसिटिव डेटा फेसबुक के साथ शेयर नहीं होते. 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

WhatsApp को अपनी नई पॉलिसी को लेकर दुनियाभर में काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. इस बीच कंपनी ने नई पॉलिसी को लेकर लोगों के मन में जो शंकाएं उसे दूर करने के लिए कई सवालों के जबाव दिए हैं. साथ ही कंपनी ने कहा है कि आपके सेंसिटिव डेटा फेसबुक के साथ शेयर नहीं होते. इसके अलावा कंपनी ने ये भी कहा है कि नई पॉलिसी अपडेट किसी भी तरह से दोस्तों या परिवार के साथ आपके मैसेजेस की प्राइवेसी को प्रभावित नहीं करता है.

वॉट्सऐप ने कहा है कि नई पॉलिसी में वॉट्सऐप बिजनेस को लेकर बदलाव शामिल होंगे, जोकि ऑप्शनल है. साथ ही इससे और भी साफ तरीके से पता चलता है कि हम डेटा कैसे कलेक्ट करते हैं और इस्तेमाल करते हैं. वॉट्सऐप ने एक डिटेल्ड ब्लॉग में लोकेशन डेटा, कॉल लॉग्स और ग्रुप जैसे कई डेटा को लेकर सवालों के जवाब दिए हैं. साथ ही ये भी कहा है कि वॉट्सऐप के डेटा फेसबुक के साथ शेयर नहीं होते.

मैसेज एंड कॉल को लेकर वॉट्सऐप ने कहा है कि कंपनी ना आपके मैसेज पढ़ सकती है और ना आपके कॉल्स सुन सकती है और ना फेसबुक ये चीजें कर सकता है. कंपनी ने कहा कि वॉट्सऐप एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड है और ये आगे भी ऐसा ही रहेगा.

वॉट्सऐप ने कहा कि हम मैसेज और कॉलिंग का लॉग भी नहीं रखते हैं. यानी लोग जिन्हें भी कॉल या मैसेज करते हैं इसका डेटा वॉट्सऐप नहीं रखता है. इसी तरह लोकेशन के बारे में भी कंपनी ने कहा कि आपका लोकेशन ना हम देख सकते हैं ना ही फेसबुक देख सकता है. कंपनी ने आगे कहा कि जब आप वॉट्सऐप में किसी के साथ लोकेशन शेयर करते हैं तो ये एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड होता है. ऐसे में केवल वही शख्स देख सकता है, जिसे आपने लोकेशन शेयर किया है.

वॉट्सऐप ने कहा है कि वो आपके कॉन्टैक्ट्स फेसबुक के साथ शेयर नहीं करता है. इसके बारे में थोड़ा और बताते हुए कंपनी ने लिखा है कि हम आपके एड्रेस बुक से केवल फोन नंबर्स को ऐक्सेस करते हैं. ताकी मैसेजिंग को तेज किया जा सके. साथ ही हम आपके कॉन्टैक्ट लिस्ट को फेसबुक के दूसरे ऐप्स के साथ भी शेयर नहीं करते.

ग्रुप्स को लेकर वॉट्सऐप ने कहा है कि ग्रुप्स प्राइवेट रहते हैं. कंपनी ने कहा है कि हम मैसेज डिलीवर करने और अपनी सर्विस को स्नैप और एब्यूज से बचाने के लिए ग्रुप मेंबरशिप का इस्तेमाल करते हैं. हम Ads के लिए फेसबुक के साथ इस डेटा को शेयर नहीं करते. साथ ही कंपनी ने कहा है कि प्राइवेट चैट्स एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड होते हैं और हम उनके कंटेंट नहीं देख सकते.

वॉट्सऐप ने कहा है कि यूजर्स डिसअपीयरिंग मैसेज सेट कर सकते हैं. कंपनी ने कहा कि यूजर्स एडिशनल सिक्योरिटी के लिए अपने मैसेजेस को सेंड करने के बाद चैट से डिसअपीयर होने के लिए सेट कर सकते हैं.

कंपनी ने आगे कहा है कि यूजर्स अपना डेटा डाउनलोड कर सकते हैं. वॉट्सऐप ने कहा है कि यूजर्स ऐप से ही अपना डेटा डाउनलोड कर सकते हैं और देख सकते हैं कि कंपनी के पास आपका कितना डेटा है.



Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it