Top
Home > राज्य > तेलंगाना > हैदराबाद > ओवैसी ने दिल्ली हिंसा के लिए भाजपा नेता को जिम्मेदार बताया, कहा- कब तक ये लोग मेरे नाम की मिठाई खाते रहेंगे

ओवैसी ने दिल्ली हिंसा के लिए भाजपा नेता को जिम्मेदार बताया, कहा- कब तक ये लोग मेरे नाम की मिठाई खाते रहेंगे

ओवैसी ने मोदी से कहा था-जिन सांपों को आपने पाला है, वहीं आपको काटेंगे

 Arun Mishra |  25 Feb 2020 10:42 AM GMT  |  दिल्ली

ओवैसी ने दिल्ली हिंसा के लिए भाजपा नेता को जिम्मेदार बताया, कहा- कब तक ये लोग मेरे नाम की मिठाई खाते रहेंगे
x
Asaduddin Owaisi (File Photo)

हैदराबाद : एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली में हुई हिंसा के लिए भाजपा के नेता जिम्मेदार हैं। उन्होंने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी के बयान पर कहा कि कब तक ये लोग मेरे नाम की मिठाई खाते रहेंगे। उन्हें (जी किशन रेड्डी) वापस दिल्ली जाना चाहिए। वे हैदराबाद में क्या कर रहे हैं? वे गृह राज्यमंत्री हैं। उन्हें वहां जाकर स्थिति को नियंत्रित करना चाहिए।

इससे पहले जी किशन रेड्डी ने हैदराबाद में कहा- ट्रम्प के दौरे के समय हिंसा होना बड़ी साजिश की तरफ इशारा कर रहा है। गृह मंत्रालय लगातार हालात पर नजर बनाए हुए है। दोषियों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कांग्रेस और सीएए विरोधियों पर भी निशाना साधा। साथ ही कहा कि राहुल गांधी, ओवैसी और सीएए विरोधियों को इस पर जवाब देना चाहिए।

ओवैसी ने मोदी से कहा था-जिन सांपों को आपने पाला है, वहीं आपको काटेंगे

सोमवार को दिल्ली में हुई हिंसा के लिए एक पूर्व विधायक को दोषी ठहराया। साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री से कहा कि जिन सांपों को आपने पाला है, वहीं आपको काटेंगे। ओवैसी हैदराबाद में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर (एनपीआर) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस (एनआरसी) के विरोध में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए थे। इसके अलावा राहुल गांधी ने भी हिंसा को गलत ठहराया है। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन स्वस्थ लोकतंत्र का प्रतीक है, लेकिन हिंसा सही नहीं। वहीं, केजरीवाल भी राजधानी के मौजूदा हालात को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने लोगों से संयम बरतने की अपील की है।

ओवैसी ने ट्वीट किया, ''यह दंगा एक पूर्व विधायक और भाजपा नेता के उकसाने का परिणाम था। इसमें पुलिस के शामिल होने के भी स्पष्ट सबूत हैं। पूर्व विधायक को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए। हिंसा को नियंत्रित करने के लिए तत्काल कदम उठाए जाने चाहिए, नहीं तो यह और फैलेगी।''

हिंसा को सही नहीं ठहराया जा सकता : राहुल गांधी

वहीं, राहुल गांधी ने हिंसा को लेकर कहा कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन स्वस्थ लोकतंत्र का प्रतीक है। हिंसा को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता है। मैं दिल्ली के नागरिकों से आग्रह करता हूं कि वे इस वक्त संयम से काम लें। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया- दिल्ली में पूरा दिन हिंसा से भरा रहा। हिंसा से सिर्फ आम जनता और देश का नुकसान होता है। मैं सभी दिल्लीवासियों से शांति की अपील करती हूं। सोनिया गांधी ने कहा कि जो शक्तियां देश पर अपनी सांप्रदायिक और विभाजनकारी विचारधारा को थोपना चाहती हैं, उनका यहां कोई स्थान नहीं है।

दिल्ली के मौजूदा हालात से चिंतित: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी मंगलवार को ट्वीट कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने लिखा- मैं दिल्ली के मौजूदा हालात को लेकर चिंतित हूं। सभी मिलकर शांति स्थापित करने की कोशिश करें। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया- तीन दशक से दिल्ली में हूं। अपने ही शहर में इतना डर कभी नही लगा। क्या हो गया है ये ? कौन लोग हैं, जो दिल्ली में आग लगा रहे हैं? बेहद दुखी और शर्मिंदा हूं। ये हमारी प्यारी दिल्ली है। देश की राजधानी है। इसे बचाना ही होगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it