Top
Begin typing your search...

स्वतंत्रता दिवस पर 'सर्वश्रेष्ठ कॉन्स्टेबल' का पुरस्कार पाने वाला पुलिसकर्मी घूस लेते हुए पकड़ाया

इस पुलिसकर्मी को इसी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर ‘सर्वश्रेष्ठ कॉन्स्टेबल’ का पुरस्कार मिला था

स्वतंत्रता दिवस पर सर्वश्रेष्ठ कॉन्स्टेबल का पुरस्कार पाने वाला पुलिसकर्मी घूस लेते हुए पकड़ाया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

दिल्ली : भारत में पुलिसकर्मियों के घूसखोरी के मामले आए दिन आते रहते हैं लेकिन क्या आप इस बात पर यकीन करेंगे जो आदमी सर्वश्रेष्ठ कॉन्स्टेबल का अवार्ड प्राप्त करता है और महज कुछ ही दिन बाद घूसलेते रंगे हाथ पकड़ा जाता है तो आपके मन में निश्चय हैं उस पुरस्कार पर भी सवालिया निशान उत्पन्न हो जाता है जो उस कॉन्स्टेबल को दिया गया। कुछ इसी तरह का एक वाकया हुआ है जो इन दिनों काफी चर्चा का विषय बन गया है।

ये मामला तेलंगाना का है जहां 'सर्वश्रेष्ठ कॉन्स्टेबल' का पुरस्कार पाने वाला पुलिसकर्मी घूस लेते हुए पकड़ा गया। तेलंगाना के इस पुलिसकर्मी को इसी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 'सर्वश्रेष्ठ कॉन्स्टेबल' का पुरस्कार मिला था

भारत में पुलिसकर्मियों पर रिश्वतखोरी के आरोप लगना आम बात है, लेकिन तेलंगाना में इस हवाले से एक दिलचस्प मामला सामने आया है. यहां शुक्रवार को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने एक पुलिस कॉन्स्टेबल को घूस लेते हुए पकड़ा है. पी तिरुपति रेड्डी नाम के इस कॉन्स्टेबल को इससे एक दिन पहले ही यानी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 'सर्वश्रेष्ठ कॉन्स्टेबल' का पुरस्कार दिया गया था.

खबरों के मुताबिक तिरुपति रेड्डी तेलंगाना के महबूबनगर जिले के एक थाने में तैनात है. उसे एसीबी ने उस समय रंगे हाथों पकड़ा जब वह एक रेत कारोबारी से 17 हजार रुपये की घूस ले रहा था. इससे पहले एसीबी में मुदावत रमेश नाम के इस रेत कारोबारी ने शिकायत दी थी कि यह कॉन्स्टेबल उन्हें परेशान कर रहा है और ट्रैक्टर जब्त करने की धमकी दे रहा है. रमेश के मुताबिक तिरुपति ने पैसे न देने पर उन्हें फर्जी केस में फंसाने की धमकी भी दी थी.

इससे पहले 15 अगस्त को 'कर्तव्यनिष्ठा और लगन' से जिम्मेदारियां निभाने के लिए तिरुपति को सर्वेश्रेष्ठ कॉन्स्टेबल का पुरस्कार दिया गया था. उन्हें यह पुरस्कार राज्य के राजस्व मंत्री वी श्रीनिवास गौड़ ने स्वतंत्रता दिवस से जुड़े एक कार्यक्रम में दिया था.

Special Coverage News
Next Story
Share it