Top
Begin typing your search...

कोरोना वायरस : आगरा में थाना प्रभारी सहित 75 कर्मियों ने कराया मुंडन

जब कस्बे में ये पुलिस वाले गश्त पर निकले तो लाॅकडाउन के बावजूद लोग घर के दरवाजों, खिड़कियों से इन्हें देखकर हैरान रह गए।

कोरोना वायरस : आगरा में थाना प्रभारी सहित 75 कर्मियों ने कराया मुंडन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आगरा : कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए आगरा (Agra) की थाना फतेहपुर सीकरी पुलिस ने अनोखी तरकीब निकाली है। रविवार को इस थाने के इंस्पेक्टर सहित 75 पुलिसकर्मियों ने सामूहिक मुंडन करा लिया और इसके बाद जब कस्बे में ये पुलिस वाले गश्त पर निकले तो लाॅकडाउन के बावजूद लोग घर के दरवाजों, खिड़कियों से इन्हें देखकर हैरान रह गए।

थाने के प्रभारी निरीक्षक भूपेंद्र सिंह बालियान ने बताया कि हमने देखा कि कई लोग मुंह पर मास्क लगाने के साथ सिर को भी ढके हैं। डॉक्टर ने बताया कि कोरोना वायरस सिर के बालों में भी चिपक सकता है। वहां से सांस के जरिए अंदर जा सकता है इसलिए हमने मुंडन कराने का फैसला लिया। पूरा थाना इसमें सहमत था इसलिए सभी 75 कर्मियों ने मुंडन कराया है। मुंडन के दौरान सामाजिक दूरी का पूरा ध्यान रखा गया।



'प्रोटोकॉल का उल्लंघन भी नहीं'

मुंडन कराने वालों में प्रभारी निरीक्षक के अलावा निरीक्षक क्राइम अमित कुमार, नौ उपनिरीक्षक, 15 मुख्य आरक्षी और 49 आरक्षी शामिल हैं। मुंडन के बाद सभी पुलिसकर्मी कस्बे में गश्त पर निकले। लोग इतने सारे पुलिसवालों को ऐसी अवस्था में देखकर चौंक गए। इंस्पेक्टर का कहना है कि मुंडन पुलिस प्रोटोकॉल का उल्लंघन नहीं है। लंबे बाल रखना अनुशासन के खिलाफ है, लेकिन छोटे कराना या मुंडन कराना नहीं।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it