Home > मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने तीन तलाक बिल पर रोक की उठाई मांग, बताया- महिला विरोधी

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने तीन तलाक बिल पर रोक की उठाई मांग, बताया- महिला विरोधी

पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा कि हम केंद्र से इस बिल को वापस लेने की अपील करते हैं।

 Arun Mishra |  2017-12-24 10:33:37.0  |  New Delhi

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने तीन तलाक बिल पर रोक की उठाई मांग, बताया- महिला विरोधी

नई दिल्ली : मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने आज लखनऊ में बैठक के बाद फैसला लिया है कि तीन तलाक बिल पर रोक लगाई जाए। पर्सनल लॉ बोर्ड ने इसे महिला विरोधी बताया है। पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा कि तीन तलाक पर बिल में मुस्लिमों पक्षों को शामिल नहीं किया गया। हम केंद्र से इस बिल को वापस लेने की अपील करते हैं।


पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा कि इस बिल का मसौदा तैयार करते वक्त किसी प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया, न ही किसी स्टेकहोल्डर से सलाह ली गई। AIMPLB इस पक्ष को पीएम के सामने रखेगा और उनसे इस बिल को वापस लेने का अनुरोध करेगा।

बता दें कि रविवार को लखनऊ में इस संबंध में पर्सनल लॉ बोर्ड की वर्किंग कमेटी की बैठक हुई। इस बैठक में तीन तलाक पर प्रस्तावित बिल को लेकर चर्चा की गई। कई घंटों चली बैठक के बाद बोर्ड ने इस बिल को खारिज करने का निर्णय लिया।

आपको बता दें एक बार में 'तीन तलाक' को सुप्रीम कोर्ट द्वारा अवैध मानने के बाद अब केंद्र की मोदी सरकार इस मसले पर कानून लाने जा रही है। इस संबंध में मौजूदा संसद सत्र में बिल पेश किया जाएगा। लेकिन इससे पहले ही ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने इस बिल पर चर्चा करते हुए इसे महिला विरोधी बताया है।

Tags:    
Share it
Top