Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > पैरोल खत्म होने के एक दिन पहले फरार बम धमाकों का आरोपी जलीस अंसारी कानपुर से गिरफ्तार, देश से भागने की फिराक में था

पैरोल खत्म होने के एक दिन पहले फरार बम धमाकों का आरोपी जलीस अंसारी कानपुर से गिरफ्तार, देश से भागने की फिराक में था

जलीस मूलरूप से संतकबीर नगर का रहने वाला है. वह बम बनाने का मास्टर आदमी था। इसलिए इसे 'डॉक्टर बम' के नाम से भी बुलाते थे।

 Arun Mishra |  17 Jan 2020 11:56 AM GMT  |  दिल्ली

पैरोल खत्म होने के एक दिन पहले फरार बम धमाकों का आरोपी जलीस अंसारी कानपुर से गिरफ्तार, देश से भागने की फिराक में था

मुंबई से लापता हुआ आतंकी डॉ. जलीस अंसारी को कानपुर से गिरफ्तार कर लिया गया है। उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने आतंकी अंसारी के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि वह देश से भागने की फिराक में था। आतंकी डॉ. जलीस अंसारी की गिरफ्तारी के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि जलीस अंसारी को कानपुर से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार करने के बाद अब उसे लखनऊ लाया जा रहा है।

डीजीपी ओपी सिंह ने इस गिरफ्तारी को उत्तर प्रदेश पुलिस के लिए एक बड़ी उपलब्धि करार दिया। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि आतंकी डॉक्टर जलीस अंसारी देश से भागने की फिराक में था। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है।

ओपी सिंह ने बताया कि कानपुर की एक मस्जिद से जब वह एक बच्चे की अंगुली पकड़ कर निकल रहा था तभी उसे पकड़ लिया गया। जलीस मूलरूप से संतकबीर नगर का रहने वाला है. उन्होंने आगे कहा वह बम बनाने का मास्टर आदमी था। इसलिए इसे 'डॉक्टर बम' के नाम से भी बुलाते थे।

आपको बतादें 50 से ज्यादा बम धमाकों का आरोपी जलीस अंसारी (jalees ansari) गुरुवार की सुबह से गायब हो गया। 1993 में हुए राजस्थान सीरियल बम धमाके (rajasthan blast) में उसे उम्रकैद की सज़ा हुई थी। वह पिछले साल दिसंबर में 21 दिन की पैरोल पर अजमेर जेल से बाहर आया था। गुरुवार को पैरोल खत्म होने के पहले ही वह गायब हो गया। जलीस को डॉक्टर बम के नाम से भी जाना जाता है।

इस आतंकी के लापता होने की खबर के बाद महाराष्ट्र एटीएस और क्राइम ब्रांच अलर्ट पर थी। एक अधिकारी ने बताया कि पैरोल की अवधि के दौरान अंसारी को रोजाना सुबह साढ़े दस बजे से 12 बजे के बीच अग्रीपाडा थाने आकर हाजिरी लगाने को कहा गया था, लेकिन वह गुरुवार को निर्धारित समय पर नहीं पहुंचा।

अधिकारियों ने बताया कि दोपहर में अंसारी का बेटा जैद अंसारी पुलिस थाने पहुंचा और पिता के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई। जैद ने बताया कि उसके पतिा जलीस सुबह नमाज पढ़ने की बात कहकर घर से निकले थे लेकिन वापस नहीं लौटे। जैद की शिकायत पर पुलिस ने जलीस की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर ली। मुंबई पुलिस की अपराध शाखा और महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ते ने उसको पकड़ने के लिए बड़े पैमाने पर अभियान चलाया।

बता दें कि आतंकी जलीस अंसारी को अजमेर बम धमाकों के मामले में उम्र कैद की सजा सुनाई गई है। आतंकी जलीस अंसारी आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीन और सिमी से जुड़ा था और पाकिस्तान में बम बनाने की ट्रेनिंग ले चुका है। अंसारी जयपुर ब्लास्ट,अजमेर ब्लास्टऔर मालेगांव ब्लास्ट में भी दोषी है। इस खतरनाक आतंकी के गायब होने के बाद से सुरक्षा एजेंसी अलर्ट पर हैं। आतंकी जलीस को पकड़ने के लिए जगह-जगह छापेमारी की जा रही है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story

Similar Posts

Share it
Top