Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > अलीगढ़ > पुलिस को चकमा देकर फरार हुआ गैंगेस्टर वापस थाने आया और अपनी स्कार्पियो भी ले गया

पुलिस को चकमा देकर फरार हुआ गैंगेस्टर वापस थाने आया और अपनी स्कार्पियो भी ले गया

 Shiv Kumar Mishra |  30 July 2020 3:46 AM GMT  |  अलीगढ़

पुलिस को चकमा देकर फरार हुआ गैंगेस्टर वापस थाने आया और अपनी स्कार्पियो भी ले गया
x

पुलिस को चकमा देकर फरार हुआ गैंगेस्टर वापस थाने आया और अपनी स्कार्पियो भी ले गया

अलीगढ़। उत्तर प्रदेश में आज कल अपराधियों ने पुलिस की नाक में दमकर रखा है। गोरखपुर से लेकर गाज़ियाबाद तक पूरा यूपी आपराधिक घटनाओं से दहला हुआ है। और इस बीच पुलिस के निकम्मेपन की एक से बढ़कर एक कहानी सामने आ रही है।

अब ताज़ा मामला अलीगढ़ का सामने आया है जहां इगलास कोतवाली में पकड़ कर लाया गया एक टॉपटेन अपराधी/ गैंगेसटर बबलू सिंह पहले पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया।और अभी पुलिस उसको तलाश कर ही रही थी कि उसका दुस्साहस देखिये, वो फिर थाने आया और पुलिस द्वारा पकड़ी गई अपनी स्कार्पियो लेकर फरार हो गया।

घटना की सूचना मिलते ही ज़िले में हड़कम्प मच गया एसपी देहात समेत तमाम वरिष्ठ अधिकारी भाग के थाने पहुंच गये। पूरे ज़िले की नाका बंदी कर फरार गैंगेस्टर की तलाश शुरू की गयी।मगर तब तक गैंगेसटर पुलिस की परिधि से काफी दूर जा चुका था।पुलिस के मुताबिक इगलास थाने की गोरई चौकी के इंचार्ज शक्ति राठी व बेसवां चौकी इंचार्ज ने शुक्रवार की सुबह ईसी एक्ट व अन्य धाराओं में दर्ज मुकदमे में वांछित चल रहे मोहकमपुर के प्रधान व गैंगेस्टर बबलू सिंह पहलवान को हिरासत में लिया।और उसी की स्कॉर्पियो से पुलिस थाने लेकर पहुंची। यहाँ उसे कोतवाल के सामने पेश किया गया। कोतवाल ने आरोपी को हवालात में पहुंचाने के निर्देश दिए।

इस दौरान बबलू पुलिस को चकमा देकर थाने के पीछे की दीवार फांदकर फरार हो गया। यह देख पुलिसकर्मी उसे पकड़ने के लिए दौड़ पड़े।पुलिस उसे तलाश ही रह थी कि वह फिर से चकमा देकर थाना परिसर में आया और अपनी स्कॉर्पियो भी ले गया।शातिर के फरार होने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी देहात अतुल शर्मा कोतवाली पहुंच गए। उन्होंने आरोपी को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।शहर की नाकाबंदी कर पुलिस पार्टियां बबलू सिंह की तलाश में जुट गयीं , लेकिन शाम तक सफलता नहीं मिली , पुलिस ने पूछताछ के लिए उसके करीबी कुछ लोगों को हिरासत में लिया है।

ये हाल है ठोंक दो वाली सरकार की ख़ाकी का हर रोज़ अपराधी नई चुनौती पेश कर रहे है और यूपी पुलिस अपना इक़बाल बुलंद नही रख पा रही है इन्हीं सब घटनाओं को लेकर विपक्ष के निशाने पर हैं मोदी की भाजपा की योगी आदित्यनाथ सरकार। विपक्ष के निशाने पर होने के बाद भी ना सरकार ना ही ख़ाकी सुधरने का प्रयास करती दिखाई दे रही है प्रियांका गांधी सरकार को घेरने का कोई मौक़ा नहीं छोड़ती हर घटना के बाद योगी सरकार को पत्र लिख चेताने का काम कर रही है लेकिन लगता है कुंभकर्णी निद्रावस्था में मौजूद सरकार पर कोई फ़र्क़ नही पड़ रहा है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it