Top
Begin typing your search...

ABVP द्वारा आतंकवाद कारण और निवारण विषय पर एक संगोष्ठी का किया गया आयोजन

ABVP  द्वारा आतंकवाद कारण और निवारण विषय पर एक संगोष्ठी का किया गया आयोजन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शशांक मिश्रा

वनस्पति विज्ञान विभाग सभागार इलाहाबाद विश्वविद्यालय में एक राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन ABVP द्वारा किया गया.इस संगोष्ठी में मुख्य वक्ता वरिष्ठ पत्रकार पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ ने भारत में आतंकवाद के ऐतिहासिक घटनाक्रम को बताया. उन्होंने कहा की यह कहना कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता यह सिर्फ एक आडंबर है.

विशिष्ट वक्ता रॉ के पूर्व अधिकारी कर्नल आर एस एन सिंह जी ने भारत के सम्मुख आंतरिक सुरक्षा के विषय में बताते हुए कहा कि आज भारत को सबसे ज्यादा खतरा नक्सलियों से है नक्सली भारत को आंतरिक रुप से खोखला करने का कार्य कर रहे हैं| उन्होंने कहा कि धारा 35A को समाप्त ना करना भारत की जनता के साथ छलावा है| उन्होंने मैप के माध्यम से छात्रों को भारत और उसकी आंतरिक सुरक्षा के बारे में बताया.




विशिष्ट वक्ता दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर एवं आध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा जी ने भारत की सनातन संस्कृति के मर्म को समझाते हुए पाकिस्तान और चीन द्वारा भारत की संस्कृति पर प्रहार करने के विभिन्न स्वरूपों पर प्रकाश डाला. उन्होंने आतंकवाद के कारण और उसके निवारण के उपाय बताएं.

संचालन शोध छात्र विकास पांडे ने किया. धन्यवाद ज्ञापन अनुभव उपाध्याय ने किया. कार्यक्रम में राष्ट्रीय मंत्री रोहित मिश्रा,विभाग प्रमुख उमेश द्विवेदी,विभाग संयोजक अभिनव सिंह,राज्य विश्वविद्यालय प्रमुख प्रवीण ,अश्वनी सहित सैकड़ो संख्या में छात्र उपस्थित रहे.

Next Story
Share it