Top
Begin typing your search...

कांग्रेस के राशिद अल्वी ने अमरोहा से लोकसभा चुनाव लड़ने से किया इनकार, सचिन चौधरी को मिला टिकट

लोकसभा चुनाव से पूर्व सचिन चौधरी ने अमरोहा लोकसभा क्षेत्र में हस्ताक्षर अभियान के जरिये अपनी सक्रियता बढ़ा दी थी

कांग्रेस के राशिद अल्वी ने अमरोहा से लोकसभा चुनाव लड़ने से किया इनकार, सचिन चौधरी को मिला टिकट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अमरोहा : लोकसभा चुनाव का महा-संग्राम जारी है. इसी क्रम में कांग्रेस ने यूपी की अमरोहा लोकसभा सीट से सचिन चौधरी को उम्मीदवार बनाया है। इससे पहले ख़बर ये थी कि इस सीट से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी चुनाव लड़ेंगे चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है इसके पीछे कोई खास वजह नहीं बताई जा रही है लेकिन सूत्रों के अनुसार वह टिकट मिलने पर देरी के चलते पार्टी नेतृत्व से नाराज थे। अब सचिन चौधरी को कांग्रेस ने अमरोहा सीट से उम्मीदवार बनाया है।

बता दें कि राशिद अल्वी यूपी कांग्रेस की घोषणा पत्र समिति के चेयरमैन भी हैं। राशिद अल्वी का अमरोहा से उम्मीदवारी वापस लेना कांग्रेस के लिए बड़ा झटका बताया जा रहा है।अमरोहा सीट से भाजपा ने कंवर सिंह तंवर और बसपा ने दानिश अली को मैदान में उतारा है। इस लोकसभा चुनाव में ऐसा पहली बार हुआ है जब पार्टी द्वारा प्रत्याशी बनाए जाने के बाद किसी उम्मीदवार ने अपना नाम मैदान से वापस लिया है।

कौन हैं सचिन चौधरी?

लोकसभा चुनाव से पूर्व सचिन चौधरी ने अमरोहा लोकसभा क्षेत्र में हस्ताक्षर अभियान के जरिये अपनी सक्रियता बढ़ा दी थी। इस दौरान उन्होंने जिले में शौचालय घोटाला होने का आरोप लगाते हुए कलेक्ट्रेट पर कुछ दिन आमरण अनशन भी किया था। कांग्रेस के साथ ही वह यहां पर समाजवादी पार्टी के टिकट पर दावेदारी जता रहे थे, लेकिन सपा-बसपा गठबंधन के बाद जब अमरोहा सीट बसपा के खाते में चली गई तो वह कांग्रेस का टिकट हासिल करने की दौड़ में लग गए। कांग्रेस जिलाध्यक्ष चौधरी सुखराज सिंह ने भी पार्टी हाईकमान को संभावित प्रत्याशियों में राशिद अल्वी और सचिन चौधरी का नाम भेजा था। जिलाध्यक्ष ने बताया कि पार्टी हाईकमान ने अमरोहा लोकसभा क्षेत्र से सचिन चौधरी को प्रत्याशी घोषित कर दिया है। पार्टी के निर्देश पर सभी कार्यकर्ता सचिन को जोरदार तरीके से चुनाव लड़ाने के लिए तैयार हैं।

कांग्रेस ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश की चार लोकसभा सीटों पर मुस्लिम उम्मीदवार उतारे थे. मुरादाबाद, बिजनौर, सहारनपुर और अमरोहा चार ऐसे लोकसभा क्षेत्र हैं, जहां से कांग्रेस ने मुस्लिम चेहरों को मौका दिया है. मुरादाबाद से इमरान प्रतापगढ़ी, बिजनौर से नसीमुद्दीन सिद्दीकी, सहारनपुर से इमरान मसूद और अमरोहा से राशिद अलवी को टिकट दिया गया है. ये चारों सिर्फ प्रत्याशी भर नहीं हैं, बल्कि इनकी अपनी अलग खास पहचान भी है. अब इनमें से एक राशिद अल्वी ने चुनाव लड़ने से मना कर दिया है. कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता राशिद अल्वी पूरे देश में अपनी पहचान रखते हैं.

आप भी देखिए- 'स्पेशल कवरेज न्यूज़' द्वारा सचिन चौधरी का आज से 9 महीने पहले का इंटरव्यू



Special Coverage News
Next Story
Share it