Top
Begin typing your search...

यूपी : बलिया डीएम के आवास पर BJP कार्यकर्ता ने की अभद्रता, पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

यूपी : बलिया डीएम के आवास पर BJP कार्यकर्ता ने की अभद्रता, पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मिली जानकारी के मुताबिक, तहसीलदार के साथ हाथापाई की गई है?

बलिया : यूपी के बलिया में एक बीजेपी नेता पर डीएम के दफ्तर में जाकर हंगामा करने का आरोप है, जिसके बाद उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया गया। प्रशासन का कहना है कि उनके खिलाफ चुनाव आचार संहिता के उल्‍लंघन का आरोप था और इसलिए उन्‍हें दफ्तर बुलाया गया था, लेकिन वहां वह हंगामे पर उतारू हो गए। वहीं, बीजेपी नेता का कहना है कि डीएम के दफ्तर में उन्‍हें 'उचित सम्‍मान' नहीं मिला। यहां तक कि उन्‍हें बैठने के लिए कुर्सी भी नहीं दी गई।

बीजेपी नेता विनोद तिवारी पर बलिया के डीएम भवानी सिंह के दफ्तर में जाकर हंगामा करने का आरोप है। उनके खिलाफ एक रेवेन्‍यू अधिकारी के साथ हाथापाई, डीएम को धमकाने और उन्‍हें गाली देने का आरोप भी है। प्रशासन को उनके खिलाफ आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्‍लंघन की शिकायत मिली थी। प्रशासन का कहना है कि उनके खिलाफ पहले से ही कई आपराधिक मामले दर्ज हैं और इन सबकी जानकारी लेने के लिए ही तलब किया गया था।

आरोप है कि पूछताछ के दौरान बीजेपी नेता भड़क गए और गाली-गलौच पर उतर आए। इसी दौरान उन्‍होंने एक रेवेन्‍यू अफसर के साथ हाथापाई भी की। यहां तक कि उन्‍होंने डीएम को भी धमकी और गाली दी। हंगामा बढ़ता देख डीएम ने पुलिस को बुलाया, जिसके बाद बीजेपी नेता को गिरफ्तार कर लिया गया।

वहीं, बीजेपी नेता ने अपने खिलाफ दर्ज मामलों को राजनीति से प्रेरित बताया और कहा कि जब वह दफ्तर पहुंचे तो उनके साथ सही सलूक नहीं किया गया। डीएम उनसे अभद्रता के साथ पेश आ रहे थे। यहां तक कि उन्‍हें बैठने के लिए कुर्सी भी नहीं दी गई। उनका यह भी कहना है कि प्रशासन ने इस मामले में नियमानुकूल कार्रवाई नहीं की।

Next Story
Share it