Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > बाराबंकी > देवा थाना क्षेत्र की घटना, तीन हिरासत में, शव की तलाश में जुटी पुलिस

देवा थाना क्षेत्र की घटना, तीन हिरासत में, शव की तलाश में जुटी पुलिस

युवक की हत्या कर घाघरा किनारे फेंका, 21 अप्रैल को गायब हुआ था युवक अजीत, पिता ने 3 लोगों पर जताई थी हत्या की आशंका.

 Special Coverage News |  25 April 2019 3:46 PM GMT

देवा थाना क्षेत्र की घटना, तीन हिरासत में, शव की तलाश में जुटी पुलिस
x

बाराबंकी

युवक को घर से बुला ले जाने के बाद गला रेत कर हत्या कर दी गई और शव को घाघरा नदी में फेंक दिया। युवक के गायब होने के बाद उसके पिता ने पुलिस को तहरीर देकर चार लोगों पर आशंका जाहिर की थी। पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो बड़ा सच सामने आया। पुलिस की पूछताछ में पकड़े गए लोगों ने स्वीकार किया कि उन्होंने युवक की हत्या करके शव को घाघरा किनारे फेंक दिया है। यह सुनकर पुलिस भी दंग रह गई। पुलिस आरोपियों द्वारा बताए गए स्थान पर जाकर शव की खोजबीन में लगी है। युवक हत्या के पीछे अवैध संबंध बताए जा रहे हैं। घटना देवा थाना क्षेत्र की है।

पिता ने हत्या की आशंका का दर्ज कराया था मुकदमा :

देवा थाना क्षेत्र के ग्राम तिन्दोला निवासी दिनेश कुमार अवस्थी ने 21 अप्रैल को देवा थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया था कि गांव के ही सूरज अवस्थी, आशु शर्मा, चंद्रकांत उर्फ अशोक और चंद्रकांत की पत्नी ने 15 दिन पहले उनके पुत्र अजीत अवस्थी को जान से मारने की धमकी दी थी। दोनों में पुरानी रंजिश चल रही थी। इसी को लेकर सूरज और आशु उसके पुत्र अजीत को खिलाने पिलाने का बहाना बनाकर ले गए हैं और गायब कर दिया है। दिनेश ने तहरीर में आशंका जाहिर की थी कि उनके पुत्र के साथ कोई अनहोनी हो सकती है। तीन-चार दिनों तक अजीत का कोई सुराग न मिलने पर पुलिस ने गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच शुरू की। महिला को छोड़ बाकी सभी आरोपियों को पकड़ा गया। गुरुवार को सभी से कड़ाई से पूछताछ हुई तो जो सच सामने आया उसे सुनकर पुलिस भी दंग रह गई। पुलिस के अनुसार उक्त लोगों ने यह कबूल किया कि उन्होंने अजीत की हत्या कर दी है और शव को घाघरा नदी में फेंक दिया है। यह जानकारी मिलने के बाद परिजनों में भी कोहराम मच गया।

घाघरा में शव तलाश करने पहुंची पुलिस :

पूछताछ के बाद यह खुलासा होने से हत्या की घटना साबित हो गयी और पुलिस ने आरोपियों द्वारा बताए गए स्थान पर शव की तलाश शुरू कर दी। गुरुवार की देर शाम तक देवा के थानाध्यक्ष पीके सिंह पुलिस बल के साथ लाश की तलाश करने में जुटे थे। हालांकि देर शाम तक घाघरा नदी में शव नहीं मिल पाया। इस संबंध में क्षेत्राधिकारी नगर सुशील कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। सबसे पहले हमारा प्रयास यही है कि शव बरामद किया जाए। उन्होंने बताया कि हिरासत में लेकर तीन लोगों से पूछताछ की जा रही है। पूरे मामले का खुलासा जल्दी कर दिया जाएगा। इस संबंध में थानाध्यक्ष पीके सिंह ने बताया कि युवक की गला काटकर हत्या हुई थी और लाश को घाघरा नदी में फेंक दिया गया था। पूरे मामले की जांच पड़ताल जारी है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it