Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > बाराबंकी > 257 छात्रों को पढ़ाई पूरी होते ही मिली नौकरी, खुशी से झूमे छात्र बोले हैल्लो मम्मी पापा नौकरी मिल गयी

257 छात्रों को पढ़ाई पूरी होते ही मिली नौकरी, खुशी से झूमे छात्र बोले हैल्लो मम्मी पापा नौकरी मिल गयी

 Special Coverage News |  28 Feb 2019 12:08 PM GMT  |  बाराबंकी

257 छात्रों को पढ़ाई पूरी होते ही मिली नौकरी, खुशी से झूमे छात्र बोले हैल्लो मम्मी पापा नौकरी मिल गयी
x

बाराबंकी

चारो तरफ फटाफट आवेदन भरे जा रहे थे। कोई अपनी पसंद की कंपनी और पैकेज की जानकारी जुटा रहा था। तो कोई इंटरव्यू की बारीकियों को एकांत में बैठ कर रिमांड तैयारी करने में जुटा था। जी हाँ यही नज़ारा था जहांगीराबाद इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में यहां जिला सेवायोजन कार्यालय द्वारा एक दिवसीय रोजगार मेले का आयोजन किया गया।जिसमे 20 कम्पनियों ने हिस्सा लिया जिसमें 1200 प्रतिभागियों ने विभिन्न पदों के लिए इंटरव्यू दिया।

इन कंपनियों ने दी नौकरी

रोजगार मेले में मुख्य रूप से एसबीआई लाइफ इन्शुरन्स, रिलायन्स इंडस्ट्रीज, हेर्बोकाम, टाटा लाइफ इन्सुरेंस, न्यूज़टाइम पोस्ट, विनुथना, जी4सिक्योर सॉल्युशन, वाबको इंडिया लिमिटेड, बांकेज, कोहिनूर ग्रुप, शिवशक्ति बायो टेक्नोलॉजी जैसी बड़ी कंपनियों में बच्चो ने ज्यादा रुचि दिखाई।

257 अभ्यर्थियों को मिल गयी नौकरी

बारह सौ से ज्यादा छात्र छात्राओं ने पसंद की कंपनियों में आवेदन करके इंटरव्यू के सामना 257 प्रतिभाशाली अभ्यर्थियो का सेलेक्शन हो गया। चयनित बच्चो के चेहरे खुशी से चमक रहे थे । तो वही उन्हें साथी बच्चे बधाई देकर हौसला हफजाई कर रहे थे।

हैल्लो मम्मी पापा नौकरी मिल गयी

चयनित अभ्यर्थियों को नौकरी जैसी मिली बड़ी कामयाबी के बाद खुशखबरी देने के लिए बच्चो में होड़ जैसी मची थी । अपने घरों में कोई माता, पिता कोई अपने चहेतों के साथ खुशियां साझा करने में जुटे रहे। पढ़ाई के तुरंत बाद मिली नौकरी से मानो सपनो को पंख लग गए हो बच्चो में खुशी का कोई ठिकाना नही रहा।

रोजगार मंच देना हमारा मकसद

जिला सेवायोजन अधिकारी चंद्र चूर्ण दुबे ने बताया कि हमने लगभग दस से ज्यादा रोजगार मेला का आयोजन बाराबंकी जिले में कराएं हैं लेकिन हमारा प्रयास है कि ग्रामीण इलाको में इस तरह के प्रोग्राम आयोजित किये जायें। ताकि और ज्यादा से ज्यादा बेरोजगार छात्र छात्राओं को भी पूरा मौका मिले। इसी उद्देस्य को लेके जहांगीराबाद इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में रोजगार मेले का आयोजन किया और हमे खुशी है कि हम अपने उद्देश्य में सफल रहे। और हम भविष्य में इस तरह के आयोजन समय समय पर आयोजित करते रहेंगे।

उन्होंने बताया कि हमने टेक्निकल और नॉन टेक्निकल दोनों तरह की कंपनीयो को बुलाने का प्रयास किया था। जिससे हर तरह के लोगो को रोजगार के अवसर प्राप्त हों। ट्रेनिंग और प्लेसमेंट अधिकारी डॉ ए एस गाज़ी ने बताया कि इस मेले में बाराबंकी के अलावा दूसरे जिले के लोगों ने भी भाग लिया है जिसमे छात्राओं और दिव्यांग बच्चो ने भी अपनी रुचि दिखाई।

नाकामयाब बच्चे निराश न हो

संस्थान के निदेशक ब्रिगेडियर अहमद अली ने आये हुए सभी नियोजकों को धन्यवाद दिया और कहा कि इतनी दूर से जो अभ्यर्थी आये हैं । अगर किसी का चयन नही हुआ है तो उनको निराश होने की जरूरत नही है और वे अगले रोजगार मेले में अपनी पूरी तैयारी के साथ इंटरव्यू दें। असफलता का मतलब सफलता के लिए पूरा प्रयास नही किया जा सका।

आवेदकों का हौसला बढ़ाया

कार्यक्रम का उदघाटन विधायक जैदपुर उपेंद्र सिंह रावत ने किया। उन्होंने रोजगार मेले का भ्रमण किया और सभी नियोजकों से मुलाकात कर वार्ता की तथा नियोजकों से अधिक से अधिक बेरोजगार अभ्यर्थियों को चयनित किये जाने का अनुरोध किया।

उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाको में होने वाले इस तरह के रोजगार मेले से बेरोजगारो के लिए ये बहुत लाभदायी मंच साबित होंगे। बच्चो से मिल कर जनका हौसला बढ़ाते हुए कहा कि मेहनत से हर मंजिल मिलती है। बताया कि वह पैदल खेतो की मेड के रास्ते स्कूल जाया करते थे आज विधायक है।

इस मौके पर सहायक सेवा योजन अधिकारी देवव्रत कुमार, कार्यक्रम के संयोजक अमित चतुर्वेदी, डॉ कीर्ति विक्रम सिंह, सहायक छेत्तरीय निदेशक इग्नू , प्राचार्य डॉ ए के मिश्रा, सहायक निदेशक मीडिया मो0 ज़ुबैर खान, प्रशाशनिक अधिकारी खुशनूद निज़ामी पीआरओ अर्शी अहमद आदि लोग उपस्थित रहें।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it