Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > बाराबंकी > बाराबंकी: पेड़ से फांसी लगाकर प्रेमी प्रेमिका की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत, दोनों के घरों में मचा कोहराम

बाराबंकी: पेड़ से फांसी लगाकर प्रेमी प्रेमिका की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत, दोनों के घरों में मचा कोहराम

वह तीन दिन पहले घर से गायब हो गया था और आज उसका शव कोटवा गांव के पास नाले में पाया गया। इसकी सूचना मैंने अपने बहनोई राम सुचित को भी दे दी है।

 Shiv Kumar Mishra |  15 March 2020 2:31 PM GMT  |  बाराबंकी

बाराबंकी: पेड़ से फांसी लगाकर प्रेमी प्रेमिका की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत, दोनों के घरों में मचा कोहराम

बाराबंकी :कोठी थाना क्षेत्र के अंतर्गत कोटव गांव के पास बरसाती नाले में लगे चिलविल के पेड़ से फांसी लगाकर प्रेमी और प्रेमिका की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक का भाई रविवार की सुबह लगभग 9 बजे खोजते हुए जब कोटवा नाले के पास पहुंचा तो देखा उसके भाई और युवती का शव पेड़ के नीचे पड़ा हुआ था। उसने इसकी सूचना ग्राम प्रधान को दी ग्राम प्रधानों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया।

कोठी थाना क्षेत्र के अंतर्गत मुबारकपुर निवासी विशंभर का 18 वर्षीय पुत्र देवेंद्र कुमार का प्रेम प्रसंग लोनी कटरा थाना क्षेत्र के नारायणपुर निवासी रामकिशोर की 16 वर्षीय पुत्री शालिनी कुमारी से चल रहा था। इसकी जानकारी परिजनों को हो गई थी। मृतक के पिता विशंभर ने बताया मेरा पुत्र देवेंद्र कुमार जिस लड़की से प्रेम करता था। वह मेरी पुत्री की सगी ननद थी। इसलिए हम लोगों ने देवेंद्र को मना किया था। और कहा था कि अब वह पुत्री के यहां नहीं जाएगा।

शुक्रवार को देवेंद्र अचानक घर से कहीं चला गया था। वह अक्सर घर से निकल जाता था। एक दो दिन बाद वापस आ जाता था। इसलिए हम लोग यही समझ रहे थे कहीं गया होगा आ जाएगा। युवती शालिनी कुमारी भी घर से होली के दिन से ही गायब थी। आज सुबह मृतक का भाई दिलीप कुमार खोजते हुए कोटवा गांव के पास स्थित नाले की तरफ जा रहा था।तभी अचानक उसकी नजर नाले में लगे चिलबिल के पेड़ के नीचे कुछ दिखाई दिया।

पास जाकर देखा तो उसके भाई देवेंद्र और शालिनी के शव जमीन पर पड़े थे। देवेंद्र के गले में शालिनी का दुपट्टा बंधा था और शालिनी के गले में देवेंद्र का मफलर बंधा हुआ था। उसने इसकी सूचना ग्राम प्रधान को दी ग्राम प्रधान लक्ष्मीनारायण की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया है। मृतक के भाई दिलीप कुमार ने बताया लगभग 2 वर्ष पूर्व ही अपनी बहन रजनी की शादी नारायणपुर निवासी राम सुचित के साथ की थी मेरे भाई देवेंद्र और बहन की ननद शालिनी में प्रेम प्रसंग की जानकारी होने पर हम लोगों द्वारा अपने भाई को नारायणपुर जाने से मना कर दिया था।

तब से मेरा भाई नारायणपुर गांव भले ही चोरी से जाता रहा हो लेकिन हम लोगों की जानकारी में नहीं। वह तीन दिन पहले घर से गायब हो गया था और आज उसका शव कोटवा गांव के पास नाले में पाया गया। इसकी सूचना मैंने अपने बहनोई राम सुचित को भी दे दी है।



Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it