Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > बाराबंकी > बोर्ड परीक्षाफल : यूपी की मेरिट में जिले की साख कायम

बोर्ड परीक्षाफल : यूपी की मेरिट में जिले की साख कायम

हाईस्कूल में दूसरे, तीसरे व चौथे स्थान पर जिले के होनहारों का कब्जा , इंटर में छठे नम्बर पर भी कब्जा , आत्म-विश्वास से भरे दिखे छात्र, कालेज से लेकर घर तक जश्न का माहौल 

 Special Coverage News |  27 April 2019 11:53 AM GMT  |  बाराबंकी

बोर्ड परीक्षाफल : यूपी की मेरिट में जिले की साख कायम
x

बाराबंकी

यूपी की हाईस्कूल इंटर रिजल्ट की मेरिट सूची में जिले ने अपनी साख बरकरार रखी। कारपेंटर, किसान, छोटे व्यापारी व शिक्षक के घर से निकले इन प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं ने हाईस्कूल में दूसरे, तीसरे, चौथे स्थान पर और इंटर में छठे नम्बर पर अपनी हाजिरी दर्ज कराई। कालेज से लेकर घर तक जश्न का माहौल दिखा।

इन चार मेधावियों में 3 एमआरएलबी व एक छात्र साईं कालेज का है। आइये जिले के इन होनहारों से आप को भी रू-ब-रू कराते हैं। सबसे पहले हम मुलाकात करते हैं हाईस्कूल की मेरिट के छात्रों से। साईं इंटर कालेज लखपेड़ाबाग में शिवम, हाईस्कूल में पूरे यूपी में दूसरे स्थान पर हैं। इन्हें 97% अंक 582 मिले हैं। शिवम से मात्र दशमलव 17 (.17) अंक ज्यादा पाने वाले छात्र ने सूबे में टॉप किया है।

इसके बावजूद शिवम के चेहरे पर कोई मलाल या अफसोस नहीं है। शहर के फतहाबाद में पेठा बनाने का काम करने वाले उनके पिता भारतलाल बेहद खुश है। शिवम कहते हैं परीक्षा का बहुत हौव्वा था पर मुझे अपनी तैयारी पर भरोसा था। वो हिदायत भी देते है कि पढ़ाई को घंटे से न नापो। छात्र ये देखें कि जितनी देर पढ़ाई की वो दिमाग में बस जाए।

छात्रा तनुजा विश्वकर्मा महारानी लक्ष्मी बाई इंटर कालेज की हैं। ये 96.83% अंक 581 पाकर हाईस्कूल की मेरिट में तीसरे स्थान पर रहीं। टिकैतनगर निवासी दिलावर विश्वकर्मा की पुत्री तनुजा यहां जलालपुर में मां के साथ पढ़ाई करती रही। उसकी तपस्या रंग लाई। वो कहती है कि पापा कारपेंटर हैं। वो हम बहनों की पढ़ाई के लिए बहुत मेहनत करते हैं। उसकी इच्छा है कि वो इंजीनियर बने। आंखों पर चश्मा और चेहरे पर आत्म विश्वास से भरी तनुजा ने अपनी सफलता का श्रेय प्रधानाचार्य राम किशोर शुक्ल को दिया।

महारानी लक्ष्मी बाई इंटर कालेज की छात्रा शुभांगी 96.17% अंक 577 पाकर मेरिट सूची में चौथे नम्बर पर कब्जा जमाया है। नई बस्ती बंकी के निवासी शिक्षक अखिलेश मिश्र की बेटी शुभांगी की तमन्ना है कि वो आईएएस बने। कालेज में साथियों के साथ खुश दिखी शुभांगी की मां संध्या भी पहुंच गईं। उन्होंने कहा अपनी बेटी पर उन्हें नाज है।

अब मिलते है इंटर की मेरिट सूची में छठे नम्बर पर खड़े महारानी लक्ष्मी बाई इंटर कालेज के छात्र ऋषिराज भार्गव से। उनहे 93.40 % अंक 467 मिले है। मसौली के लोहारवा गांव में रहने वाले किसान नरेंद्र कुमार के बेटे ऋषिराज बेबाकी से कहते है कि खुद पर भरोसा हो तो हर जंग जीती जा सकती है।

इस बार एग्जाम के बारे में बहुत कुछ कहा गया मगर मुझे भरोसा था खुद पर और कॉलेज की पढ़ाई पर नतीजा सामने है। सिविल सर्विस में जाने की इच्छा है और मोदी के राजनीति के तरीके उन्हें बेहद पसंद हैं। उनके व्यक्तित्त्व ने मुझे अपना लक्ष्य पाने की ताकत दी। उन्हें खेती में ज्यादा दिलचस्पी नहीं है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it