Top
Begin typing your search...

यूपी के बाराबंकी में दलितों का घर जला, दूल्हा समेत पांच को जेल

यूपी के बाराबंकी में दलितों का घर जला, दूल्हा समेत पांच को जेल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

त्रिलोकपुर

मामूली बात पर मारपीट आगजनी मामले में दोनों पक्षो में व्याप्त तनाव को देखते हुए मध्य रात्रि एडिशनल एसपी पुलिस मौके पर पहुचे पहरा लगा । इस प्रकरण में आगजनी की दूसरी एफआईआर दर्ज की गयी है। दोनों तरफ के 5 आरोपियों को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया गया है जिसमे एक दूल्हा भी है जिसकी सनिवार को बारात जानी थी।

पुलिस लापरवाही से बढ़ा तनाव:

इलाके के टेरा दौलतपुर निवासी शांति देवी पत्नी सर्वेश गौतम और मंजनू फकीर के बीच जमीन विवाद का मुकदमा कोर्ट में विचाराधीन है। इसी वजह से दोनो गुटों में पूर्व से तनाव बरकरार था। गुरुवार को दोनो के बीच खेत मे बकरी जाने को लेकर मारपीट हुई इस मामले में पुलिस ने शांति गौतम की तहरीर पर हरिजन एक्ट की धाराओं में मंजनू के दो बेटों वैस और गुलाम पर मुकदमा दर्ज किया । इस मामले में उपजे तनाव को पुलिस ने हल्के में लिया नतीजा ये हुआ कि शुक्रवार शाम को हरिजनों का घर जला दिया गया। इसके बाद दोनव तरफ से जमकर पत्थरबाजी हुई माहौल को सांप्रदायिकता के चटक रंगों में खूब घोला गया । अफवाह फैलाई गई । देर शाम तक हालात नाजुक बन गए तो भारी पुलिस फोर्स मौके पर डेरा डाल दिया मध्य रात्रि एडिशनल एसपी सीओ के साथ मौके पर आकर जांच पड़ताल की। इसके बाद दोनो तरफ से 5 लोगो को हिरासत में लेकर थाने लाया गया।

भीड़ को समझाती रही पुलिस:

सनिवार की सुबह दोनो गुटों के दर्जनों समर्थकों की भीड़ थाने पहुच गयी नेताओ से लेकर कई संघटनो के नेता भी पहुचे। हालात को देखते हुए पुलिस अलग अलग खित्तों में आये लोगो को समझाती रही दोपहर बाद मंजनू के पक्ष से मारपीट में 4 लोगो को नामजद करके और शांति गौतम की तरफ से मारपीट आग्जांनी का दूसरी एफआईआर दर्ज की गई है। इस बाबत मंजनू वैस परिवार का कहना है कि हमारे बेटे गुलाम हाफिज की शादी है सनिवार को बरात जानी थी । विपक्षियों ने हम लोगो को फसाने के लिए अपने हाथ से छप्पर में आग लगाई है। शांति गौतम ने बताया कि विपक्षी हमारे दरवाजे मांश धो रहे थे इससे बात बिगड़ी ।

ससुराल की जगह थाने पहुचा दूल्हा:

एक पक्ष के मंजनू के बेटे हाफिज फरीददुद्दीन की शादी थी सनिवार को लखनऊ के जानकीपुरम सेक्टर 1ई के निवासी मो. हनीफ की बेटी सबाना के साथ निकाह होना था। सुबह बरात की जगह पिता के साथ दूल्हा थाने से जेल भेज दिया गया। इस घटना के बाद दोनो घरों में शादी खुशियां टेंशन में बदल गयी। इस बाबत पुलिस का कहना है कि शादी से ज्यादा कार्यवाही जरूरी थी। दोनो पक्षो की तरफ से मिली तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। गांव में पुलिस तैनात है हालात पर नज़र है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it