Top
Begin typing your search...

बाराबंकी : खाद्य रसद राज्यमंत्री राघवेंद्र प्रताप सिंह के धान क्रय केंद्र पर औचक निरीक्षण से मचा हड़कंप, अधिकारियों को लगाई फटकार


क्रय केन्द्र पर कमियाँ देखकर मन्त्री की भृकुटि तन गयी और कहा कि इतना भ्रष्ट केन्द्र उन्हें दस बारह जनपदों में नही मिला

बाराबंकी : खाद्य रसद राज्यमंत्री राघवेंद्र प्रताप सिंह के धान क्रय केंद्र पर औचक निरीक्षण से मचा हड़कंप, अधिकारियों को लगाई फटकार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बाराबंकी : किसानों के धान क्रय केन्द्रों पर बिचौलियों की बढ़ती दखल की शिकायत जैसे ही मुख्यमंत्री को मिली तो सरकार सख्त हो गयी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर उनकी सरकार के खाद्य एवं रसद मन्त्री औचक निरीक्षण को जब बाराबंकी पहुँचे तो दंग रह गए और बरबस ही उनके मुँह से निकल गया कि 10,12 जिले घूमने के बाद भी यहाँ जैसा भ्रष्ट केन्द्र उन्हें अब तक नही मिला ।

निरीक्षण के दौरान केन्द्र पर व्याप्त भ्रष्टाचार की शिकायतें किसानों द्वारा की गई।नियम के विपरीत बिना टोकन के हो रही धान की तौल को देख कर मंत्री का पारा चढ गया।

भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामबाबू द्विवेदी के साथ निरीक्षण करने पहुंचे खाद्य रसद विभाग के राज्य मंत्री राघवेंद्र प्रताप सिंह धुन्नी ने केन्द्र पर मौजूद किसानों से बात कर हकीकत की जानकारी ली।

ग्राम बरौलिया निवासी किसान रामसुमिरन वर्मा ने मंत्री से शिकायत करते हुए कहा कि यहाँ पर किसान यूनियन और वीआईपी के नाम पर नियम विरुद्ध धान तौला जाता है।जबकि आम किसान महीनों से टोकन लिए घूम रहा है।

मन्त्री ने कहा कि ऐसे क्रय केन्द्रों पर सख्त कार्यवाही की जाएगी । तस्वीरो में मन्त्री खुद कहते दिखाई दे रहे है कि तुम लोगों ने योगी जी को बेंच दिया है इतना अच्छा मुख्यमंत्री मिला है कि सौ रुपया लेना नही है चाय तुम्हारी नही पीते और इस तरह डकैती डलवाओगे ।

मन्त्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को यह शिकायत मिली थी कि यहाँ किसानों की धान खरीद न होकर बिचौलियों का धान खरीदा जा रहा है । मुख्यमंत्री के आदेश पर सभी नोडल अधिकारियों सहित वह खुद औचक निरीक्षण हेतु निकले हैं ।


क्रय केन्द्र पर कमियाँ देखकर मन्त्री की भृकुटि तन गयी और कहा कि इतना भ्रष्ट केन्द्र उन्हें दस बारह जनपदों में नही मिला। इसके बाद मंत्री ने किसानों को दिया केंद्र प्रभारी के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही का आश्वासन दिया।

आप भी देखिये पूरी रिपोर्ट -


Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it