Top
Begin typing your search...

सांढ़ के हमले से किसान की दर्दनाक मौत, बेहद गरीब है मृतक

सांढ़ के हमले से किसान की दर्दनाक मौत, बेहद गरीब है मृतक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बाराबंकी: आवारा सांढ़ के हमले में गंभीर रूप से घायल किसान की मौत हो गयी। मृतक छुट्टा जानवरो से अपने खेत की रखवाली कर रहा था। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है। थाना इलाके के ग्राम अजगना निवासी बाबू लाल पुत्र हीरू उम्र करीब 50 साल बुधवार की रात अपने दो बीघा आलू व गेंहू की फसल को छुट्टा मबेशियों से बचाने को रखवाली कर रहा था। देर रात्रि एक सांड आकर खेत मे चरने लगा अपनी खून पसीना बहा कर उपजाई फसल को बर्बाद होते देख बाबू लाल सांड को हाँकने के लिए नजदीक पहुचा।

इसी बीच सांड नेबने पलटवार कर दिया। और किसान को दौड़ा कर गिरा लिया इसके बाद कई बार पटक कर अधमरा कर दिया। इस बीच बचाव बचाव की आवाज सुनकर अन्य रखवाली कर रहे किसान दौड़े तब तक किसान की बुरी हालात हो चुकी थी। लोगो ने तत्काल जिला अस्पताल ले गए जहां हालत को गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने ट्रामा सेंटर रिफर कर दिया। लेकिन किसान की मौत हो गयी। सूचना पर पहुची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

दहसत में आसपास के किसान

मचान बना कर खेत की रखवाली करने वाला बाबूराम जानता था कि आवारा पशुओं से जान का खतरा हो सकता है। कई किसानों को घायल होने के बाद लोग मचान बना कर अपनी फसल पर नजर रखते है। लेकिन सांढ़ को भगाने की कीमत जान गंवा कर चुकानी पड़ी । किसानों अरविंद , माधव, कृपाराम आदि ने बताया कि हम लोगो के खेत मे झुंड बनाकर कर आवारा मवेशी फसल बर्बाद कर देते है। बताया अब भूखे जानवरो हिंसक हो गए है। इससे हम लोगो मे दहसत बनी रहती है। मृतक किसान बेहद गरीब है मात्र 2 बीघा खेती से अपने बच्चों परिवार का पेट भरता था ।

Special Coverage News
Next Story
Share it