Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > बाराबंकी > दो बराते भिड़ी, चली कुर्सियां, विवाद की वजह बनी नशाखोरी, मुश्किल से विदा हुई बेटियां कई घायल

दो बराते भिड़ी, चली कुर्सियां, विवाद की वजह बनी नशाखोरी, मुश्किल से विदा हुई बेटियां कई घायल

पहले एक बारात के कुछ बेकाबू बिग्लैड युवा दूसरी बारात ओर तंज कसा तो जवाबी तंज ने माहौल को विस्फोटक बना दिया।

 Special Coverage News |  8 April 2019 2:19 AM GMT  |  बाराबंकी

दो बराते भिड़ी, चली कुर्सियां, विवाद की वजह बनी नशाखोरी, मुश्किल से विदा हुई बेटियां कई घायल
x

बाराबंकी

नशे में धुत होकर डीजे की धुन पर उत्पात मचा रहे बारातियो की जनातियो से कहासुनी के बाद जमकर मारपीट के साथ बवाल हो गया । बात बढ़ी तो एक बारात वाले दूसरे बारातियो पर कुर्सियो से हमला बोल दिया । घंटे भर चली त्रिकोडीय लड़ाई में आधा दर्जन से ज्यादा लहूलुहान हो गए। इस विवाद से उत्पन्न तनाव के चपेट में दोनों निकाह आ गए । इनकार, इकरार के बाद किसी तरह देर रात दोनों बेटियां रुखसत हो पायी।

थाना जहांगीराबाद इलाके की है घटना

क्षेत्र के दरहरा गांव ने समी अंसारी जे घर दो बेटियों की बरात आनी थी। पहली बराता लखनउ से पहुची जिसमे डीजे व्यवस्था नही थी। इसी बीच फतेहपुर के बन्नी से दूसरी बरात डीजे की धुन पर थिरकती पहुची। जनाती इस्तकबाल के लिए पूरी तरह थे। घर मे चारो तरफ खुशियो का बोलबाला था। इसी बीच किसी ने आकर बताया कि मदरसा में बारातियो में कुछ युवक शराब का सेवन किया है। और यूज सामग्री वही पड़ी है। इस खबर ने जनातियो और गांव के संभ्रांत लोगो मे बेहद नागवार गुजरी चूंकि सवाल दो बेटियों की विदाई का था। इस नाते पनप रहा आक्रोश बाहर नही निकला।

आखिरकार खुशियो पर भारी पड़ा नशा

अंतः वही हो गया जिसकी आसंका थी। पहले एक बारात के कुछ बेकाबू बिग्लैड युवा दूसरी बारात ओर तंज कसा तो जवाबी तंज ने माहौल को विस्फोटक बना दिया। दिहाती बनाम शहरी के तंज पर दोनों तरफ से हमला हो गया देखते ही सैकड़ो की भीड़ में जनाती भी जुट गए और फिर क्या था इस त्रिकोडीय संघर्ष में जिसके हाथ जो लगा दे मारा। दर्जन भर कुर्सियां टूटी तो लाठी डंडे से आधा दर्जन से ज्यादा सर फूटे जिसको पड़ी ले भागा पूरे गांव में दौड़ा कर बेहिसाब पिटाई हुई इस विवाद में जनाती भी लहूलुहान हुए। दोनों बारातों के सारे बाराती बिना खाना नास्ता के भाग खड़े हुए। उधर तन्हा बचे दूल्हा राजा ने जान बचा कर किसी के घर ठिकाना बना कर जान बचाई । देर शाम उतरे संभ्रांत लोगो के दखल से इनकार इकरार जे बीच बमुश्किल से निकाह तो हो गया। लेकिन फलफूल रही खुशियो के बीच चारो तरफ लोगो, मेहमानों के माथे पर चिंता की लकीरो ने कब्जा जमा लिया । इस संघर्स में कई मेहमान महिलाएं , लडकिया उपद्रव का शिकार हो गयी। बहुत सारे मेहमान नाराज होकर बिना खाये घर चले गए तो शादी खाना आबादी सब तहस नहस हो गया । मौके पर पहुची दो पीआरवी गाड़ियों और थाने की पुलिस ने हालात सम्भाले इस बाबत मेजबानो ने कुछ भी बोलने से इनकार करते हुए कहा कि सब ठीक हो गया है । कुछ सराती तत्वों ने गैर सामाजिक हरकते की थी । किसी तरफ से कोई तहरीर पुलिस को नही मिली है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it