Top
Begin typing your search...

मिशन शक्ति अभियान के तहत स्कूली छात्रा को बनाया गया थाना प्रभारी

प्रभारी निरीक्षक कृतिका अग्रवाल बिजनौर थाना कोतवाली शहर के दारानगर गंज क्षेत्र की रहने वाली है।

मिशन शक्ति अभियान के तहत स्कूली छात्रा को बनाया गया थाना प्रभारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फैसल खान बिजनौर

बिजनौर प्रदेश सरकार की महत्वकांक्षी योजना मिशन शक्ति अभियान के तहत बिजनौर शहर कोतवाली में 1 दिन के लिए एक स्कूली छात्रा को कुछ घंटे के लिए थाने का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया है। प्रभारी निरीक्षक छात्रा ने थाने की बैरक सहित सभी जगहों का पहले तो जायजा लिया।

इसके तुरंत बाद थाने में आए फरियादियों की फरियाद सुन कर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की गई। कुछ घंटों की बनी प्रभारी निरीक्षक छात्रा ने थाने में दर्ज हाल फिलहाल मुकदमों की जानकारी भी ली। इस अवसर पर एसपी डॉ धर्मवीर सिंह सहित थाना कोतवाली शहर बिजनौर के प्रभारी निरीक्षक सहित सभी एसओ व पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

प्रदेश सरकार की महत्वकांक्षी योजना मिशन शक्ति व महिला हेल्प डेस्क कार्यक्रम के तहत आज बिजनौर जनपद के शहर कोतवाली थाने में ग्यारहवीं की छात्रा कृतिका अग्रवाल को एसपी डॉ धर्मवीर सिंह की मौजूदगी में कुछ घंटों का प्रभारी निरीक्षक नियुक्त किया गया। प्रभारी निरीक्षक छात्रा कृतिका अग्रवाल ने एसपी की मौजूदगी में सड़क पर निकल कर रूट मार्च किया। साथ ही थाने में आने वाली सभी समस्याओं को सुनकर उनका निराकरण किया। हाल फिलहाल में दर्ज हुए मुकदमों की जानकारी कर सभी मुकदमों का जल्द निस्तारण के लिए प्रभारी निरीक्षक राजेश सिंह सोलंकी को दिशा निर्देश दिए।

प्रभारी निरीक्षक कृतिका अग्रवाल बिजनौर थाना कोतवाली शहर के दारानगर गंज क्षेत्र की रहने वाली है। छात्रा शहर के एक निजी डीडीपीएस स्कूल में 11वीं की छात्र है और 16 वर्ष की आयु में मिशन शक्ति अभियान के तहत उसे कुछ घंटों के लिए आज थाना कोतवाली शहर का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया है।

कुछ घंटों के प्रभारी निरीक्षक छात्रा कृतिका अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश सरकार की अपराधियों के प्रति जो मंशा है मैं उसकी सराहना करती हूं। साथ ही आज थाने का प्रभारी निरीक्षक बनते ही मैंने दो मुकदमे दर्ज किए हैं। जिसमें की एक दहेज मामले को लेकर मुकदमा दर्ज किया गया है। और दूसरा मुकदमा बैंक में हुए फ्रॉड को लेकर दर्ज किया गया है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it