Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > बिजनौर > रामसेतु का पत्थर पहुंचा बिजनौर, देखने की मची होड़

रामसेतु का पत्थर पहुंचा बिजनौर, देखने की मची होड़

 Special Coverage News |  21 Sep 2018 12:24 PM GMT  |  बिजनौर

रामसेतु का पत्थर पहुंचा बिजनौर, देखने की मची होड़
x

फैसल खान / बिजनौर

बिजनौरको महात्मा विदुर की धरती कहा जाता है, तो इस धरती पर आज श्रीराम का चमत्कार हुआ। राम सेतु से पानी में तैरकर आया पत्थर बिजनौर के बैराज तक पहुंच गया। दरअसल भगवान श्रीराम का चमत्कार बिजनौर तक पहुंच गया राम सेतु से पानी में तैर कर आया पत्थर बिजनौर के बैराज गंगा घाट तक पहुंच गया। पत्थर को देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमर पड़ी लोग पानी में तैर रहे इस पत्थर की घाट पर ही पूजा अर्चना करने लगे।


गौरतलब है रावण की लंका में जाने के लिए राम सेतु का निर्माण किया गया था धार्मिक ग्रंथों में जिक्र है कि भगवान श्री राम की सेना में शामिल नल व नील ने पत्थरों पर श्री राम का नाम लिखकर सागर में डाले थे। यह पत्थर पानी में डूबने की जगह तैरने लगे थे पत्थरों के बने पुल पर ही चल कर भगवान श्री राम की सेना लंका तक पहुंची थी। पत्थरो का बना पुल रामसेतु के नाम से जाना जाता है जो आज भी मौजूद है। रामसेतु के पत्थर आज भी कुछ स्थानों पर भी रखे गए हैं जिनकी पूजा-अर्चना की जाती है।


उधर बिजनौर जनपद के लोगों ने भगवान श्री राम के चमत्कार से पानी में तैरने वाले पत्थर के बारे में सुना जरूर था और कुछ ने देखा भी होगा लेकिन महात्मा विदुर की धरती के लिए सौभाग्य की बात है कि पहली बार रामसेतु का यह पत्थर बिजनौर पहुंचा। वंही बताया जा रहा है कि इस पत्थर को कोई लेकर नहीं आया बल्कि यह पत्थर गंगा में तैरता हुआ बिजनौर के बैराज गंगा घाट पर तैरता हुआ देखा गया। जब लोगों ने इस पत्थर को तैरता हुआ देखा तो युवकों ने छलांग लगा दी और पत्थर को पानी से निकाल कर बाहर ले आए।


पत्थर के बारे में पता चलते ही लोग भारी संख्या में घाट पर पहुंच गए और पत्थ र को स्पर्श कर पूजा कर खुद को सौभाग्यशाली मान रहे हैं। वंही पत्थर लोगों के बीच कोतूहल का विषय बना हुआ है और इसे देखने के लिए लोगों का ताता लगा हुआ है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it