Top
Begin typing your search...

देश पर अपने प्राण न्योछावर करने वाले कर्नल आशुतोष शर्मा को देगी यूपी सरकार 50 लाख की आर्थिक मदद

चचेरे भाई सुनील पाठक ने बताया कि बुलंदशहर प्रशासन ने उन्हें एक पास जारी कर दिया है। इसकी मदद से वह पार्थिव शरीर को लेने के लिए जयपुर रवाना होंगे।

देश पर अपने प्राण न्योछावर करने वाले कर्नल आशुतोष शर्मा को देगी यूपी सरकार 50 लाख की आर्थिक मदद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश सरकार ने सीमा पर शहीद होने वाले कर्नल आशुतोष शर्मा को लेकर बड़ी घोषणा की। देश पर अपने प्राण न्योछावर करने वाले कर्नल आशुतोष शर्मा के सम्मान में यूपी सरकार उनके परिवार को 50 लाख की आर्थिक सहायता तथा एक सदस्य को सरकारी नौकरी प्रदान करेगी। इसके साथ-साथ उनकी स्मृति में बुलन्दशहर में उनके गाँव में गौरव द्वार का निर्माण भी करेगी। हमें सभी शहीदों पर गर्व है। यह जानकारी मुख्यमंत्री के मीडिया प्रभारी मृत्युंजय कुमार ने दी है।

कश्मीर के हंदवाड़ा में शहीद हुए कर्नल आशुतोष शर्मा मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के निवासी थे। खानपुर थाना क्षेत्र के गांव परवाना में जन्मे कर्नल आशुतोष शर्मा रविवार को आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए। खबर मिलते ही पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ पड़ी। उनका घर बुलंदशहर के गांव इलना परवाना में है, लेकिन फिलहाल परिवार जयपुर में रहता है। इसके बावजूद उनके शहीद होने की खबर पर पूरे गांव में मातम पसर गया है।

गांव वालों ने बताया कि शहीद कर्नल आशुतोष शर्मा 15 साल पूर्व माता पिता संग जयपुर में जाकर बस गए थे। उन्होंने इंटर तक की पढ़ाई बुलंदशहर डीएवी इंटर कॉलेज से की थी। शहीद कर्नल के चचेरे भाई ने बताया कि बुलंदशहर के पैतृक गांव में ही उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनका बचपन भी यहीं बीता है। चचेरे भाई सुनील पाठक ने बताया कि बुलंदशहर प्रशासन ने उन्हें एक पास जारी कर दिया है। इसकी मदद से वह पार्थिव शरीर को लेने के लिए जयपुर रवाना होंगे।


Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it