Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > चित्रकूट > पीएम नरेंद्र मोदी आज चित्रकूट में बुंदेलखंड एक्‍सप्रेस-वे का शिलान्यास करेंगे

पीएम नरेंद्र मोदी आज चित्रकूट में बुंदेलखंड एक्‍सप्रेस-वे का शिलान्यास करेंगे

14849.09 करोड़ की लागत से बनने वाला यह एक्सप्रेस-वे बुंदेलखंड को दिल्ली से जोड़ेगा.

 Arun Mishra |  29 Feb 2020 4:10 AM GMT  |  दिल्ली

पीएम नरेंद्र मोदी आज चित्रकूट में बुंदेलखंड एक्‍सप्रेस-वे का शिलान्यास करेंगे
x
PM Narendra Modi (File Photo)

लखनऊ : पीएम नरेंद्र मोदी आज चित्रकूट में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास करेंगे. 14849.09 करोड़ की लागत से बनने वाला यह एक्सप्रेस-वे बुंदेलखंड को दिल्ली से जोड़ेगा. बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे चित्रकूट के भरतकूप के पास से शुरू होकर बांदा, हमीरपुर, महोबा और औरैया होते हुए इटावा के कुदरैल गांव के पास यमुना एक्सप्रेस-वे से मिलेगा. फरवरी, 2018 में यूपी सरकार ने उत्तर प्रदेश में डिफेंस कॉरिडोर (Defence Corridor) बनाने का ऐलान किया था. बताया जा रहा है कि एक्सप्रेस-वे के इर्द-गिर्द ही डिफेंस कॉरिडोर को डेवलप किया जाएगा.

शनिवार दोपहर बाद करीब एक बजे पीएम मोदी प्रयागराज से सेना के हेलीकॉप्टर से यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन और सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ भरतकूप के गोंडा गांव में बने हेलीपैड पर उतरेंगे. वे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के निर्माण स्थल पर पूजा-अर्चना कर शिलान्यास करेंगे. इसके बाद वे कुछ लोगों से मुलाकात भी करेंगे. दोपहर 1:40 बजे पीएम नरेंद्र मोदी का वहां जनसभा को संबोधित करने का भी कार्यक्रम है. इस दौरान वे विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को स्वीकृतिपत्र और चेक भी सौंपेंगे. इसके बाद वे राज्यपाल और मुख्यमंत्री के साथ दोपहर 2:30 बजे प्रयागराज के लिए उड़ान भरेंगे. प्रयागराज से पीएम मोदी विमान से दिल्ली लौट आएंगे.

जानें बुदेलखंड एक्‍सप्रेस वे के बारे में

करीब 15 हजार करोड़ (अनुमानित लागत 14849.09 करोड़ ) से बनाया जा रहा बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे 296.070 किलोमीटर लंबा होगा. इसके बनने से चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, ओरैया और इटावा जिलों के लोगों को काफी फायदा होगा. एक्सप्रेस-वे चार लेन का बनेगा. भविष्य में 6 लेन तक विस्तार करने की भी योजना है.

दिल्‍ली की दूरी कम होगी और समय बचेगा

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे बनने से एक तरफ दिल्‍ली की दूरी कम होगी, समय बचेगा, वहीं डीजल-पेट्रोल की खपत घटने से प्रदूषण भी कम होगा. एक्‍सप्रेसवे के लिए 95 फीसदी से अधिक भूमि का अधिग्रहण हो चुका है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it