Top
Begin typing your search...

उत्तर प्रदेश में प्रधान की फिर से दबंगई, घर के बाहर खड़े लोगों पर बरसाई गोलियां, एक की मौत

8 दिन पहले भी दबंग प्रधान ने गांव की ही एक महिला को घर में घुसकर बेरहमी से पीटा था. इसके बाद भी उसकी अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई थी.

उत्तर प्रदेश में प्रधान की फिर से दबंगई, घर के बाहर खड़े लोगों पर बरसाई गोलियां, एक की मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश के एटा (Etah) में पुरानी रंजिश के चलते दबंग प्रधान और उसके गुर्गों ने घर के बाहर खड़े दो लोगों को गोली मार दी. इस घटना में एक युवक की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई. दूसरे को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वारदात को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

मामला थाना कोतवाली नगर क्षेत्र के शीतलपुर गांव का है

जानकारी के मुताबिक, मामला थाना कोतवाली नगर क्षेत्र के शीतलपुर गांव (Sheetalpur Village) का है, जहां दबंग प्रधान भूपेंद्र यादव और उसके 4 साथियों के द्वारा 35 वर्षीय वीरपाल की ताबड़तोड़ फायरिंग कर हत्या कर दी. इस घटना में एक अन्य व्यक्ति घायल भी हुआ है. वहीं एक भैंस के भी छर्रे लगने की जानकारी सामने आई है.

मृतक की प्रधान से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी

आपको बता दें जब वीरपाल अपनी दुकान बंद कर रहा था तभी प्रधान से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई. इसके बाद प्रधान और उसके साथियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर वीरपाल को मौत के घाट उतार दिया और फरार हो गए. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं, घायल को इलाज के लिए अस्पतालल में भर्ती कराया गया है.

इस घटना से 8 दिन पहले भी दबंग प्रधान और उसके सहयोगियों ने गांव की ही एक महिला को घर में घुसकर बेरहमी से पीटा था. महिला इतना मारा गया था कि वह बेहोश हो थी. उसका उपचार अभी तक चल रहा है. वहीं कोतवाली नगर पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी संदेह उठना लाजमी है. क्योंकि जब 8 दिन पूर्व प्रधान के खिलाफ 307, 452 जैसी संगीन धाराओं में एफआई आर दर्ज की थी, तो उसको अभी तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया. अगर प्रधान को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया होता, तो आज शायद या घटना नहीं हुई होती.

Special Coverage News
Next Story
Share it