Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > इटावा > एसएसपी इटावा आकाश तोमर ने दिया बड़ी समझदारी का परिचय, जब सैकड़ों महिलाओं और पुरुषों को समझा बुझाकर भेज दिया घर वापस

एसएसपी इटावा आकाश तोमर ने दिया बड़ी समझदारी का परिचय, जब सैकड़ों महिलाओं और पुरुषों को समझा बुझाकर भेज दिया घर वापस

सडक पर जाम लगाए बैठी महिलाओं को महिला पुलिस टीम द्वारा ही समझा बुझाकर एवं चेतावनी देते हुए सडक से उठाकर उनके घरों में भेजा गया.

 Shiv Kumar Mishra |  22 Jan 2020 12:22 PM GMT  |  इटावा

एसएसपी इटावा आकाश तोमर ने दिया बड़ी समझदारी का परिचय, जब सैकड़ों महिलाओं और पुरुषों को समझा बुझाकर भेज दिया घर वापस

एसएसपी इटावा आकाश तोमर पानी सोशल पुलिसिंग के एक माहिर खिलाडी आमने जाते है. उनके इस व्यवहार से उनके विभागीय और जनपद वासी उनके कायल हो जाते है. जिससे वो बड़ी से बड़ी समस्या का निदान भी निकाल लेते है. आज इटावा में भी एकायक एक समस्या सामने आई जिसका बड़ी आसानी से निदान कर एक बार फिर से अपनी समझदारी का परिचय दिया है.

मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार को थाना कोतवाली में पचराहा जाने वाले मार्ग पर स्थित रेड क्रास सोसाइटी कार्यालय के पास सडक पर राष्ट्रीय ध्वज व अन्य पोस्टर्स को हाथ में लेकर CAA और NRC के विरूद्व लगभग 150-200 महिलाओं व बच्चों द्वारा नारेबाजी की जा रही थी. इस सूचना पर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली, क्षेत्राधिकारी नगर, एसडीएम सदर, तहसीदार सदर पर्याप्त पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर महिलाओं एवं बच्चों को धारा 144 लगी होने का हवाला देते हुए सडक पर न बैठने तथा सडक खाली करने के लिये समझाया जा रहा था. उसी समय पचराहे पर 600-700 युवा एवं अधेड उम्र में लोगों की भीड एकत्रित हो गयी और सडक जाम करने का प्रयास करने लगे जिस कारण एम्बुलेंस सहित अन्य आने जाने वाले वाहन जाम में फस गये.

इसी सूचना पर सिटी मजिस्ट्रेट इटावा एवं एसपी सिटी इटावा भी मौके पर पहुंचे तथा वहां मौजूद भीड को समझाने का प्रयास किया गया. इसी दौरान भीड में से ही किसी व्यक्ति द्वारा 2-3 पत्थर पुलिस एवं प्रशासन की टीम पर फेंके गये जिसपर पुलिस टीम द्वारा कई बार चेतावनी दी गयी जिसपर भीड के न हटने पर पुलिस टीम द्वारा भीड को मौके से हटाने के उद्देश्य से हलका बल प्रयोग करके मौके से हटाया गया तथा फसे हुए वाहनों को निकालकर आवागमन सुचारू रूप से चालू कराया गया. इस दौरान पुलिस टीम द्वारा की गयी कार्यवाही में कोई भी हताहत नहीं हुआ है.

सडक पर जाम लगाए बैठी महिलाओं को महिला पुलिस टीम द्वारा ही समझा बुझाकर एवं चेतावनी देते हुए सडक से उठाकर उनके घरों में भेजा गया. इस प्रकरण के सम्बन्ध में धारा 144 का उल्लंधन करने का थाना कोतवाली पर 12 नामजद लोगों, 150-200 अज्ञात महिलाओं एवं 600-700 अज्ञात पुरूषों के विरूद्व अभियोग पंजीकृत कर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top