Top
Begin typing your search...

अयोध्या मुद्दे पर अखिलेश यादव के बयान से मची खलबली

अयोध्या मुद्दे पर अखिलेश यादव के बयान से मची खलबली
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर शिवसेना, विहिप और हिंदू संगठनों की मुहिम के बीच शिवसेना प्रवक्ता व राज्यसभा सांसद संजय राउत के उकसाने वाले बयान से सियासी राजनीति तेज हो गई है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने अयोध्‍या में राम मंदिर मामले में जानमाल के भारी नुकसान की आशंका जताई है। उन्होंने कहा है कि अब इस जगह सरकार को सेना भेजनी चाहिए ताकि कोई अनहोनी न हो सके।




मध्‍य प्रदेश के पन्‍ना में अपनी पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करने पहुंचे अखिलेश ने कहा कि भाजपा किसी भी हद तक जा सकती है। उन्‍होंने मांग की कि सुप्रीम कोर्ट को अयोध्‍या में फौज लगाकर सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम करने के निर्देश देने चाहिए। अखिलेश ने कहा कि भाजपा को न तो संविधान पर भरोसा है और न सुप्रीम कोर्ट पर। उन्‍होंने कहा कि अगर अयोध्‍या में फौज लगाने की भी जरूरत पड़े तो वो भी लगाई जाए लेकिन सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम किए जाएं। अखिलेश ने कहा कि भाजपा को सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्‍मान करना चाहिए। राम मंदिर पर अध्‍यादेश लाने की बात पर अखिलेश ने कहा कि राम मंदिर पर फैसला सुप्रीम कोर्ट से ही होना चाहिए।


शिवसेना सांसद संजय राउत ने शुक्रवार को अयोध्या में मीडिया से बात करते हुए कहा कि जब हमने हमने 17 मिनट में बाबरी मस्जिद को ढा दिया था, तो अब कानून लाने में मोदी सरकार आखिर देर क्यों कर रही है। शिवसेना सांसद ने कहा कि राष्ट्रपति भवन से लेकर यूपी तक बीजेपी की सरकार है। राज्यसभा में ऐसे बहुत सांसद हैं जो राम मंदिर के साथ खड़े रहेंगे। जो विरोध करेंगे उनका देश में घूमना मुश्किल होगा। उन्होंने कहा कि अब ज्यादा इंतजार नहीं करेंगे।

Next Story
Share it