Top
Begin typing your search...

बदला लेने के लिए फेसबुक पर लड़की की फर्जी ID बनाई, लेकिन कर दी किसी और की हत्या, फिरोजाबाद पुलिस ने किया खुलासा

बदला लेने के लिए फेसबुक पर लड़की की फर्जी ID बनाई, लेकिन कर दी किसी और की हत्या, फिरोजाबाद पुलिस ने किया खुलासा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पुलिस ने दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है. आगे की छानबीन जारी है.

फिरोजाबाद : उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में गत 2 अगस्त को हुई सनसनीखेज हत्या का पुलिस ने खुलासा करने का दावा किया है. पुलिस ने इस सिलसिले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से हत्या में प्रयोग किये गए हथियार बरामद किये गये. पुलिस के अनुसार आरोपियों ने धोखे में युवक की गोली मारकर हत्या कर दी. और फरार हो गए. पुलिस ने दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है. आगे की छानबीन जारी है.

फिरोजाबाद के थाना सिरसागंज क्षेत्र के नगला मान सिंह गांव में सतेंद्र नामक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. परिजनों ने इस मामले में मृतक के साथ मौजूद युवक पर आरोप लगाया. लेकिन पुलिस को शक था कि हत्या किसी और ने की है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो पता चला कि हत्या से पहले मृतक को ज्योति नाम की लड़की ने फोन कर बुलाया था. आगे छानबीन की गई तो पता चला कि राघवेंद्र उर्फ काके यादव की धोंधई गांव के रहने वाले प्रदीप नामक युवक से 2014 में छेड़खानी के एक मामले को लेकर मारपीट हुई थी. तभी से वह प्रदीप से बदला लेने की फिराक में था.

बतौर पुलिस राघवेंद्र ने फेसबुक पर ज्योति नाम से फर्जी आईडी बनाकर मृतक का मोबाइल नंबर हासिल किया. और फिर लड़की की आवाज में बातकर उसे प्रेम जाल में फंसाया. गत 2 अगस्त को राघवेंद्र ने मृतक को गांव के बाहर रात 8 बजे मिलने को बुलाया. सतेंद्र और प्रदीप उससे मिलने के लिए गये. लेकिन जैसे ही दोनों मौके पर पहुंचे आरोपियों ने गोली चला दी. लेकिन गोली प्रदीप की जगह सतेंद्र को लग गई. इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी.

पुलिस के मुताबिक राघवेंद्र ने अपने साथी अनिल के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. इनके पास से एक तमंचा, दो कारतूस, एक मोबाइल और बाइक बरामद की गई है.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it