Top
Begin typing your search...

फिरोजाबाद में बुर्का पहनकर कॉलेज आई थीं छात्राएं, प्रिंसिपल ने कैंपस से भगाया

फिरोजाबाद में बुर्का पहनकर कॉलेज आई थीं छात्राएं, प्रिंसिपल ने कैंपस से भगाया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फिरोज़ाबाद स्थित एआसके डिग्री कॉलेज का है. छात्राओं से कहा जाता है कि बस स्टॉप पर बुर्का उतार कर कॉलेज में प्रवेश करें

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है, जहां बुर्का पहन कर कॉलेज आने पर प्रिंसिपल ने छात्राओं को भगा दिया. अब इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि प्रिंसिपल छड़ी लेकर बुर्के में आईं छात्राओं को कॉलेज से भगा रहे हैं. वहीं, पीड़ित छात्राओं ने भी मामले को सही बताया है. छात्राओं की माने तो उनको स्कूल प्रशासन की तरफ से कहा गया है कि रास्ते में बुर्का को उतारकर कॉलेज में प्रवेश करें.

मामला फिरोजाबाद स्थित एआसके डिग्री कॉलेज का है

जानकारी के मुताबिक, मामला फिरोजाबाद स्थित एआसके डिग्री कॉलेज का है. कहा जा रहा है कि इस डिग्री कॉलेज में बुर्का पहन कर आने पर रोक है. पीड़ित छात्राओं का कहना है कि उनसे कहा जाता है कि वो बस स्टॉप पर बुर्क़ा उतार कर कॉलेज में प्रवेश करें. वहीं, कॉलेज के प्रिंसिपल प्रभासकर राय का कहना है कि यह नियम काफी पुराना है. यहां पर लड़कों को यूनिफॉर्म में आना होता है. उन्होंने कहा कि कॉलेज में अभी एडमिशन चल रहे थे. ऐसे में इस नियम को कुछ दिनों से सख्ती के साथ पालन नहीं किया जा रहा था.

एडमिशन प्रोसेस पूरा हो गया है

प्रभासकर राय ने आगे कहा कि एडमिशन प्रोसेस पूरा हो गया है. इसलिए 11 सितम्बर के बाद से बिना परिचय पत्र और बिना यूनिफॉर्म के कॉलेज कैंपस में प्रवेश नहीं दिया जाएगा. प्रभासकर राय के अनुसार बुर्का ड्रेस कोड में नहीं आता है. जो कॉलेज प्रशासन द्वारा निर्धारित ड्रेस है सिर्फ उसे ही पहन कर कॉलेज में आने की अनुमती दी जाएगी.

छात्राओं से कहा जाता है कि बस स्टैंड पर जाकर बुर्का उतारें

एनडी टीवी के मुताबिक, कॉलेज में पुलिस का पहरा है. पुलिस बुर्का पहन कर कॉलेज आने वाली लड़कियों को रोक देती है. फिर छात्राओं से कहा जाता है कि बस स्टैंड पर जाकर बुर्का उतारें. इसके बाद कॉलेज में आएं. वहीं, क्लास के अंदर बुर्का उतारने की इजाजत नहीं है. तमाम बुर्का वाली लड़कियों का कहना है कि वह हमेशा बुर्का में कॉलेज आती हैं, लेकिन अचानक यह नियम लागू कर दिया गया.

Next Story
Share it