Top
Begin typing your search...

चुनाव आयोग ने दिया सीएम योगी को नोटिस, 5 अप्रैल तक मांगा जवाब

चुनाव आयोग ने दिया सीएम योगी को नोटिस,  5 अप्रैल तक मांगा जवाब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चुनाव आयोग ने उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के 'मोदी जी की सेना' वाले बयान पर बुधवार को नोटिस जारी किया है. आयोग ने योगी आदित्‍यनाथ से 5 अप्रैल शाम 5:00 बजे तक जवाब देने के लिए कहा है. गाज़ियाबाद में चुनाव प्रचार के दौरान भारतीय सेना को 'मोदीजी की सेना' कहने के बाद योगी आदित्‍यनाथ लगातार विपक्षी दलों के निशाने पर चल रहे थे. इस मामले पर आयोग ने गाजियाबाद के डीएम से रिपोर्ट मांगी थी.

हालांकि ये नोटिस चुनाव आचार संहिता के तहत नहीं दिया गया है. बल्कि चुनाव आयोग के उस दिशा-निर्देश के तहत जारी किया गया है जिसमें चुनाव आयोग ने सभी राजनीतिक दलों को कहा था कि चुनाव प्रचार में जवानों की तस्वीर या सेना का सन्दर्भ देने से बचे.

इससे पहले मंगलवार को सीएम योगी आदित्यनाथ के 'मोदी जी की सेना' वाले बयान पर गाजियाबाद के डीएम ने चुनाव आयोग को रिपोर्ट सौंपी थी. बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर एक रैली के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारतीय सेना के लिए 'मोदी जी की सेना' शब्द का इस्तेमाल कर दिया था. इसे विपक्ष ने सेना का अपमान बताया है.

दरअसल, सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को गाजियाबाद में एक रैली को संबोधित कर रहे थे. गाजियाबाद में योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि 'कांग्रेस के लोग आतंकवादियों को बिरयानी खिलाते थे और मोदी जी की सेना उन्हें सिर्फ गोली और गोला देती है. यह अंतर है. कांग्रेस के लोग मसूद अजहर जैसे आतंकियों के लिए जी का इस्तेमाल करते हैं, मगर पीएम मोदी के नेतृत्व में बीजेपी सरकार आतंकियों के कैंप पर हमले कर उनका कमर तोड़ती है.

Special Coverage News
Next Story
Share it