Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गाजियाबाद > गाजियाबाद : इंदिरापुरम पुलिस ने 15 हजार का ईनामी किया गिरफ्तार, एनसीआर के घरों को बनाता था निशाना

गाजियाबाद : इंदिरापुरम पुलिस ने 15 हजार का ईनामी किया गिरफ्तार, एनसीआर के घरों को बनाता था निशाना

गिरफ्तार अभियुक्त सन- 2016 में थाना साहिबाबाद से तथा सन 2017 में थाना इंदिरापुरम से अपने गैंग के सदस्यों के साथ जेल जा चुका है?

 Special Coverage News |  21 Feb 2019 11:24 AM GMT  |  दिल्ली

गाजियाबाद : इंदिरापुरम पुलिस ने 15 हजार का ईनामी किया गिरफ्तार, एनसीआर के घरों को बनाता था निशानाघटना का खुलासा करते एसपी सिटी श्लोक कुमार (IPS)

गाजियाबाद : यूपी के जनपद गाजियाबाद में पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है. थाना इंदिरापुरम पुलिस ने एक 15 हजार रुपए का इनामी बदमाश गिरफ्तार किया है. थाना इंदिरापुरम पुलिस ने कल रात शिव मंदिर के पास नीति खंड 1 से शातिर इनामी वांछित अभियुक्त को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए अभियुक्त का नाम साहिल है जो कि जवाहर पार्क शहीदनगर थाना साहिबाबाद जनपद गाजियाबाद का रहने वाला है.

घटना का खुलासा करते हुए एसपी सिटी श्लोक कुमार ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त शातिर किस्म का अपराधी है जो पूर्व में सन- 2016 में थाना साहिबाबाद से तथा सन 2017 में थाना इंदिरापुरम से अपने गैंग के सदस्यों के साथ जेल जा चुका है. अभियुक्त गैंग का मुख्य लीडर है जो इसका संचालन करता है तथा समय-समय पर अपने गैंग के सदस्यों को पुलिस से बचने के लिए बदलता रहता है. अभियुक्त सन 2017 से थाना इंदिरापुरम के गैंगस्टर अभियोग में फरार चल रहा था. जिसकी गिरफ्तारी के लिए एसएसपी गाजियाबाद ने 15000 रु. का का इनाम घोषित किया हुआ था.

अभियुक्त एक ग्रुप बनाकर एनसीआर क्षेत्र में घूमकर बंद पड़े मकानों व फ्लैटों की रेकी कर उनको अपना निशाना बनाता था. साथ ही सोसाइटी और कालोनियों में प्लंबर, बिजली मिस्त्री, कोरियर आदि बनकर आसानी से बंद पड़े मकान में ताला तोड़कर घर में घुसकर के सोने चांदी के आभूषण लैपटॉप, घर में गाडी को लेकर फरार हो जाते हैं. उक्त गैंग मकानों में लगे सीसीटीवी की डीआरवी भी साथ ले जाते हैं इस बजह से इन लोगों को पकड़ने में काफी परेशानी होती है.

गैंग के आपराधिक इतिहास व इनके द्वारा घटित घटनाओं के बारे में इंदिरापुरम पुलिस जांच कर रही है.

अरुण मिश्रा के साथ अजीत रावत की रिपोर्ट


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it