Top
Begin typing your search...

गाजियाबाद के जिलाधिकारी का गणतंत्र दिवस के दिन का कार्य बना चर्चा का विषय

गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय अपनी नेकदिली के लिए पहले से ही जाने जाते है.

गाजियाबाद के जिलाधिकारी का गणतंत्र दिवस के दिन का कार्य बना चर्चा का विषय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पूरे देश में 71वां गणतंत्र दिवस बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया। ज्यादातर सभी जगह मंत्री, नेता और अधिकारी द्वारा ध्वजारोहण किया गया। वहीं गाजियाबाद में गणतंत्र दिवस के उपलक्ष में जिलाधिकारी कैंप कार्यालय में कुछ विशेष तरीके से ध्वजारोहण किया गया। यहां पर गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय ने नहीं, बल्कि एक दिव्यांग द्वारा ध्वजारोहण किया।

ध्वजारोहण करते हुए दिव्यांग की आंखों में खुशी के आंसू छलक गए और वहां मौजूद सभी लोगों एवं अन्य कर्मचारियों के चेहरे पर भी खुशी छिपाए नहीं छिप रही थी। दरअसल, गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने दिव्यांगों और श्रोताओं एवं दर्शकों की जमात से बाहर निकलकर राष्ट्रध्वज की रस्सी एक दिव्यांग के हाथ में थमाई। इस ध्वजारोहण के यादगार माहौल की जिले ही नहीं पूरे प्रदेश में और देश में चर्चा का विषय बनी हुई है।

इस अवसर पर आकर्षक एवं राष्ट्रीय समारोह के फॉर्मल ड्रेस में तैयार हुए इस 18 वर्षीय किशोर ने भी चेयर में बैठकर ध्वज की रस्सी पकड़ी और उसे खींचकर जिलाधिकारी कैंप कार्यालय पर झंडा फहराया। इतना ही नहीं, समारोह के बाद दिव्यांग अतिथियों के माध्यम से कैंप कार्यालय पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारी सुनील शर्मा एवं गौरव आदि कर्मचारियों को भी पुरस्कृत कराया गया।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it