Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गाजियाबाद > आईएएस सौम्या पाण्डेय कर रही थी बच्ची को लेकर ड्यूटी, सरकार ने खुश होकर दिया प्रमोशन, SDM से बनी कानपुर की CDO

आईएएस सौम्या पाण्डेय कर रही थी बच्ची को लेकर ड्यूटी, सरकार ने खुश होकर दिया प्रमोशन, SDM से बनी कानपुर की CDO

नन्हीं सी बेटी को गोद में लेकर ड्यूटी कर रहीं चर्चित IAS सौम्या पाण्डेय का हुआ ट्रांसफर, गाजियाबाद से भेजी गईँ कानपुर देहात, मिलीं नई जिम्मेदारी

 Shiv Kumar Mishra |  15 Oct 2020 9:51 AM GMT  |  गाजियाबाद

आईएएस सौम्या पाण्डेय कर रही थी बच्ची को लेकर ड्यूटी, सरकार ने खुश होकर दिया प्रमोशन, SDM से बनी कानपुर की CDO
x

उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को 2 आईएएस अफसरों के तबादले कर दिए. मुख्य विकास अधिकारी कानपुर देहात जोगिंदर सिंह को बरेली विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष बनाया तो वही गाजियाबाद जनपद में तैनात आईएएस सौम्या पांडे जो कि ज्वाइंट मजिस्ट्रेट है, उन्हें कानपुर देहात का मुख्य विकास अधिकारी बनाया गया है .

सौम्या पांडे नन्ही सी बेटी को गोदी में लेकर साथ ड्यूटी पर लौटी थी. बेटी के साथ ड्यूटी करने की फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुई थी. संघ लोक सेवा आयोग की आईएएस परीक्षा 2016 में पहले प्रयास में ही चौथी रेंक लाकर पूरे देश में प्रयागराज का नाम रोशन करने वाली सौम्या पांडे एक बार फिर चर्चा में आ गई. मोदीनगर में एसडीएम के रूप में तैनात रही सौम्या ने कोरोना काल में समाज की सेवा के लिए मां बनने के महज 14 दिन बाद ही कार्यभार संभाल लिया. बच्ची को लेकर दफ्तर में आकर फ़ाइल निपटाते हुए सौम्या का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. उनके इस कदम से उनकी देशभर में तारीफ हुई.

वही यूपी सरकार को भी एक गिफ्ट मिला उनके अधिकारी काम के प्रति कितने जिम्मेदार हैं. सौम्या ने डिलीवरी के लिए 8 सितंबर को अवकाश लिया था पिता रवि पांडे ने बताया सरकारी नियम के अनुसार उन्हें अधिकतम 9 महीने का मातृत्व अवकाश मिल सकता है. लेकिन 17 सितंबर को डिलीवरी संपन्न होने के मात्र 14 दिन बाद 1 अक्टूबर को फिर से कार्यभार ग्रहण कर लिया .

हासिमपुर मोहल्ले की रहने वाली सौम्या पांडे आर्ट ऑफ लिविंग लिविंग परिवार की सदस्य रहीं है. 2017 बैच की ट्रेनिंग के बाद उनकी पहली नियुक्ति मोदीनगर एसडीएम के पद पर हुई. मार्च 2020 को सौम्या को गाजियाबाद में बतौर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की जिम्मेदारी के अलावा पूरे जिले की कोबिट मॉनिटरिंग सेल का प्रभारी बनाया गया. रोजाना जिलाधिकारी के अलावा अन्य अधिकारियों से समन्वय करने की जिम्मेदारी सौम्या पांडे ने बखूबी निभाई. उनकी शादी आईएएस अधिकारी नितिन गौर से हुई है. उनके काम करने की वजह से उनकी प्रदेश ही नहीं पूरे देश मैं बल्कि पूरे विश्व में तारीफ हो रही है फिलहाल वह अपनी नियुक्ति पर जल्दी कार्यभार ग्रहण करेंगी. .

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it