Top
Begin typing your search...

अपने ही पड़ोसी व मित्र की हत्या की साजिश का गाजियाबाद पुलिस ने चंद घंटों में किया खुलासा

आरोप है की विपिन की बहन के साथ पड़ोस में ही रहने वाले दीपक के रिश्ते थे, जिसे विपिन नापसंद किया करता था.

अपने ही पड़ोसी व मित्र की हत्या की साजिश का गाजियाबाद पुलिस ने चंद घंटों में किया खुलासा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गाजियाबाद के विजयनगर थाना क्षेत्र से अगवा युवक की हत्या कर दी गई. पुलिस के मुताबिक, शुक्रवार को मृतक युवक अपने दोस्त के साथ जॉब के सिलसिले में गया था. इसके बाद उसके अगवा होने की खबर आई थी. आरोपियों की ओर से फिरौती के तौर पर 20 लाख रुपये की मांग की गई थी. इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.

पुलिस के मुताबिक, मृतक युवक विपिन के दोस्त ने ही अपने दो साथियों के साथ मिलकर उसकी हत्या की और शव गौतमबुद्ध नगर के बादलपुर इलाके में फेंक दिया था. आरोपी के विपिन की बहन के साथ संबंध होने की बात भी पुलिस कह रही है. पुलिस का कहना है कि विपिन ने इसका विरोध किया था, जिसके बाद उसके दोस्त दीपक ने सारी साजिश रची थी. पुलिस के मुताबिक, विपिन विजयनगर के शांति नगर इलाके में रहा करता था. आरोप है की विपिन की बहन के साथ पड़ोस में ही रहने वाले दीपक के रिश्ते थे, जिसे विपिन नापसंद किया करता था.

इसी को लेकर एक बार विपिन ने दीपक की पिटाई भी कर दी थी. दीपक अपने पिटाई को लेकर गुस्से में था और उसने प्लान बना लिया था कि वह विपिन को इसका सबक सिखाएगा. विपिन ने अपने दोस्त और सगे भाई रोहित और आशु को इसके बारे में बताया और अपने प्लान में शामिल कर लिया.

क्या है पूरा मामला?

गत रात करीब 11:00 बजे एमडी एंक्लेव छपरौला थाना बादलपुर के पास से एक डेड बॉडी मिली थी जिसे घरवालों ने पहचानते हुए अपह्रत विपिन पाल की बताई । तलाश में लगी हुई टीमों ने त्वरित कार्रवाई करते हुए एक अभियुक्त मृतक के पूर्व परिचित आंसू पुत्र विजय कुमार व उसके भाई रोहित निवासीगण छपरौला थाना बादलपुर को गिरफ्तार किया है, जिसने एक अन्य अभियुक्त दीपक पुत्र प्रकाश निवासी बिहारीपुरा थाना विजय नगर जोकि मृतक विपिन का मित्र रहा है उसी का बिरादरी का व पडोसी है, के साथ मिलकर घटना को कारित करना बताया है।

आंसू ने बताया कि दीपक विपिन पाल के साथ नोएडा आया था और उसे हम एमडी एंक्लेव छपरौला में एक निर्माणधीन मकान के पास ले आये वहां लाकर विपिन पाल के हाथ पांव बांधकर सिर पर ईंटों से वार कर समय लगभग 11.30 बजे मार दिया मारने के लगभग 02 घंटे बाद उसके परिवार व पुलिस को गुमराह करने के लिए साजिश रची और विपिन के ही नम्बर से उसके घर काल कर अपहरण करने की बात कही । मैंने उसकी मोटरसाइकिल को ठिकाने लगाया है आंसू की निशानदेही पर छपरौला थाना बादलपुर से मोटरसाइकिल को बरामद कर लिया गया है आंसू ने बताया कि दीपक का विपिन की बहन से कई वर्षों से मिलना जुलना/बातचीत थी जिसे लेकर विपिन एतराज करता था अतः उसने उसे रंजिशन नोएडा में मारा है उपरोक्त सभी तथ्यों एवं अभियुक्त व मृतक की बहन की बातचीत की पुष्टि सर्विलांस से भी हुई है।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it