Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गाजियाबाद > मॉक ड्रिल : शालीमार एक्सप्रेस ट्रेन का पटरी से उतरा आखिरी डिब्बा, NDRF ने किया आपात स्थिति का आंकलन

मॉक ड्रिल : शालीमार एक्सप्रेस ट्रेन का पटरी से उतरा आखिरी डिब्बा, NDRF ने किया आपात स्थिति का आंकलन

शालीमार एक्सप्रेस ट्रेन की आखरी बोगी पलट गई इस डब्बे में 25 यात्री सवार थे?

 Special Coverage News |  26 April 2019 7:04 AM GMT  |  दिल्ली

मॉक ड्रिल : शालीमार एक्सप्रेस ट्रेन का पटरी से उतरा आखिरी डिब्बा, NDRF ने किया आपात स्थिति का आंकलन

गाजियाबाद : यूपी के जनपद गाजियाबाद में रेलवे स्टेशन पर शालीमार एक्सप्रेस का आखरी डब्बा पटरी से उतर जाने से रेलवे विभाग में मचा हड़कंप मच गया. घटनास्थल पर जिला प्रशासन, रेल विभाग व एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और बचाव एवं राहत कार्य शुरू किया। मॉेक ड्रिल के लिए पहुंची एनडीआरएफ की टीम ने समय रहते ने सिर्फ राहत व बचाव कार्य जारी किया बल्कि घायलों को अस्पताल भी पपहुंचाया।


किसी गंभीर दुर्घटना से निपटने के लिए एनडीआरएफ की टीम के कार्य को देखने के लिए स्काउड और गाइड भी आपदा की स्थिति देखने के लिए पहुंचे। मॉक ड्रिल के लिए विशेष रूप से बच्चों को बुलाया गया था।




सुबह 10:35 पर गाजियाबाद रेलवे स्टेशन से शालीमार एक्सप्रेस चली स्टेशन पार करते ही रेल की आखरी बोगी पलट गई इस डब्बे में 25 यात्री सवार थे एनडीआरएफ की टीम ने 1 घंटे चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद सभी यात्रियों को डब्बे से बाहर निकाल लिया है.

एनडीआरएफ की टीम पूरे उपकरण के साथ मौके पर पहुंची थी। टीम के विशेषज्ञों ने रेल डिब्बों की छत को काटने का काम किया। हैवी कटर से टेÑन की चादर काटने के बाद घायलों को बोगी के अंदर से सुरक्षित निकाला गया। इस दौरान स्टेÑचर के साथ टीम के सदस्य बोगी के अंदर भी पहुंचे।


आरपीएफ द्वारा दुर्घटना स्थल पर टेंट से अस्ािाई कमांड पोस्ट बनाया गया। यहां पर लोगों को घायलों की जानकारी देने के लिए अधिकारी मौजूद थे। इसके अलावा रेलवे डॉक्टरों की ओर से मेडिकल पोस्ट का निर्माण भी टेंट में किया गया। पहले घायलों को पोस्ट मेंं लाया जाता। गंभीर रूप से घायलों को पोस्ट से रेलवे अस्पताल शिफ्ट करने का क्रम चलता रहा।

इस मौके पर रेलवे के साथ स्थानीय पुलिस के क्षेत्राधिकारी धर्मेंद्र चौहान, महीपाल सिंह, सीओ जीआरपी सहित रेलवे के क्षेत्रीय अधिकारी राहुल यादव सहित सैकड़ों अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it