Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गाजीपुर > बसपा कार्यकर्ताओं में अफजाल अंसारी ने भरा जोश

बसपा कार्यकर्ताओं में अफजाल अंसारी ने भरा जोश

 Special Coverage News |  2018-09-05 04:46:57.0  |  गाजीपुर

बसपा कार्यकर्ताओं में अफजाल अंसारी ने भरा जोश

गाजीपुर। बहुजन समाज पार्टी ने अपनी मुखिया मायावती को 2019 में प्रधानमंत्री बनाने का लक्ष्य लेकर तैयारियां शुरू कर दी है। बहन जी के निर्देश पर शुरू हुए कैडर कैम्प के तहत आज जमानिया विधानसभा के रामलीला मैदान में कार्यक्रम का आयोजन हुआ। राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर शुरू हुए कैडर कैम्प कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बसपा के पूर्व सांसद एवं जोन इंचार्ज घनश्याम चंद्र खरवार ने पदाधिकारियों से कहा कि 2019 में बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती को प्रधानमंत्री बनाने के लक्ष्य के साथ पार्टी को काम करना है।


वहीं कैडर कैम्प के दौरान सेक्टर बूथ कमेटी का गठन और समीक्षा की गई जिसमें उपस्थिति 99.5 रही. कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व सांसद अफजाल अंसारी ने की अध्यक्षता संबोधन में अफजाल अंसारी ने बीजेपी पर कड़े प्रहार किए उन्होंने कहा कि देश में भ्रष्टाचारियों झूठे बेईमानों और आतताइयों की सरकार है. जो हर रोज नये नये जुमले गढ़ती है और देश की भोली भाली जनता क़ो ठगने का काम करती है लेकिन जनता अब इनके मंसूबों क़ो समझ चुकी है और आने वाले समय जनता सूद समेत इनसे हिसाब वापस लेगी देश में हर तरफ दलितों पिछड़ों और अल्पसंख्यकों के ऊपर इनके द्वारा अत्याचार कराया जा रहा है. महँगाई,बेरोजगारी,कमीशनखोरी चरम पर है. छात्रों और नौजवानों पर बेवजह लाठियां चलाकर जेल में ठूंसा जा रहा है किसान आत्महत्या कर रहा है और देश के प्रधानमंत्री जी को विदेश घूमने और मन की बात से फुरसत नही मिल रही. आने वाला समय बहुजन समाज का है इसलिये हम सबको एक होकर 2019 की लड़ाई लड़नी है और बहन जी को प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठाकर समाज में वंचित और उपेक्षित उनका हक और हिस्सा दिलाना है.




कार्यक्रम को संबोधित करते हुए घनश्याम चंद्र खरवार ने कहा कि पार्टी की बुनियाद बूथ की मजबूती है। बूथ स्तर पर सारे कार्यकर्ता और पदाधिकारी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन ईमानदारी से और ऊर्जावान होकर करें। क्योंकि 2019 में सर्वसमाज के उत्थान और कल्याण के लिए बहन मायावती का देश की प्रधानमंत्री बनना अति आवश्यक है। इसके लिए प्रत्येक कार्यकर्ता और पदाधिकारी को जी-जान से लग कर मेहनत करनी होगी।




कार्यक्रम के दौरान वरिष्ठ बसपा नेता अतुल राय ने कहा कि रुपये की कीमत गिरकर अब तक के अपने सबसे निचले स्तर पर पहुंची, तो डीजल का दाम अब तक के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गया। 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले रविशंकर का एक ट्विट घूमता है कि अमुक पार्टी सत्ता में आई तो एक डॉलर 40 रुपये का हो जाएगा। आज एक डॉलर 70 रुपये 52 पैसे का हो गया है। भारत के इतिहास में रुपया इतना कभी कमज़ोर नहीं हुआ, वैसे रामदेव बाबा ने भी रजत शर्मा के आपकी अदालत में कहा था कि पेट्रोल 35 रुपया प्रति लीटर मिलेगा। इस समय तो कई शहरों में 86 और 87 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। भारतीय रिज़र्व बैंक की रिपोर्ट आई है। नोटबंदी के बाद 99.3 प्रतिशत 500 और 1000 के नोट वापस आ गए हैं। नोटबंदी के वक्त 15.41 लाख करोड़ सर्कुलेशन में था। 15.31 लाख करोड़ वापस आ गया है। रिज़र्व बैंक ने कहा है कि वापस आए नोटों की सत्यता की जांच का काम समाप्त हो चुका है। तो फिर ये सवाल लाज़मी है कि उस वक़्त जो प्रचार प्रसार किया गया था कि 1000 नोट पाकिस्तान से आये है और बहुत सारा काला धन देश में है वो सब गया कहा? जीएसटी के कारण पैदा हुई दिक्कतें दूर होने का नाम नहीं ले रही हैं। आखिर क्यों? क्या सरकार अर्थव्यवस्था को संभालने में नाकाम साबित हो रही है? हालात को संभालने के लिए उसने अब तक कोई प्रभावी कदम क्यों नहीं उठाया है? जब बुद्धिजीवियों की द्वेष वश गिरफ्तारी हुई तो सुप्रीम कोर्ट को देश की मौजूदा परिस्थितियो को देखते हुए टिप्पणी करनी पड़ी कि अगर आप विरोध दबाएंगे तो विस्फोट हो जाएगा लोकतंत्र में अगर लोकतांत्रिक विरोध नहीं होगा तो लोकतंत्र समाप्त हो जाएगा।



कार्यक्रम को ज़ोन कोऑर्डिनेटर विनोद बांगड़ी जी ने भी संबोधित किया। संचालन जिला अध्यक्ष कमलेश गौतम ने किया एवं सभा में जमानिया नगरपालिका के अध्यक्ष एहसान जफर , बहादुरगंज नगर पंचायत के अध्यक्ष रेयाज अंसारी, नगरपालिका मुहम्मदाबाद के अध्याक्ष समीम अहमद, अब्बास अंसारी के प्रतिनिधि बृजेश जायसवाल, जिला पंचायत सदस्य द्वय फेकू यादव गांधी , धनंजय मौर्य के साथ-साथ शंभू सिंह अकेला , गामा राम, हेमंत राजभर, प्रधान वीरेंद्र यादव, कोमल कुशवाहा, दिलीप रावत सहित नरियाव सेक्टर के सभी पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Tags:    
Share it
Top