Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गाजीपुर > मुख़्तार अंसारी की माँ सुपुर्द-ए-खाक, अंसारी को माँ के जनाजे में शामिल होने के लिए नहीं मिली पैरोल, हजारों लोग हुए जनाजे में शामिल

मुख़्तार अंसारी की माँ सुपुर्द-ए-खाक, अंसारी को माँ के जनाजे में शामिल होने के लिए नहीं मिली पैरोल, हजारों लोग हुए जनाजे में शामिल

बाहुबली विधायक मुख़्तार अंसारी की माँ का इंतकाल हो गया लेकिन मुख़्तार अंसारी को जनाजे में शामिल होने के लिए नहीं मिली पेरोल.

 Special Coverage News |  29 Dec 2018 4:02 PM GMT  |  गाजीपुर

मुख़्तार अंसारी की माँ सुपुर्द-ए-खाक, अंसारी को माँ के जनाजे में शामिल होने के लिए नहीं मिली पैरोल, हजारों लोग हुए जनाजे में शामिल
x

पूर्वांचल के बाहुबली विधायक मुख्‍तार अंसारी के मां राबिया अंसारी का 93 वर्ष उम्र में निधन हो गया. बीते कई दिनों से उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी. उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया. जहाँ चिकित्‍सको ने तत्काल उन्हें आईसीयू में ले जकर बेंटीलेटर पर रखा था. देर रात उन्होंने अंतिम साँस ली. लेकिन इस बाहुबली विधायक को सरकार ने आज जनाजे में शामिल होने के लिए अनुमति प्रदान नहीं की. उनकी गैर मौजूदगी में पूर्व सांसद अफजाल अंसारी, सिबगतुल्‍लाह अंसारी और मुख़्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी के साथ हजारों आदमियों ने नम आँखों से उनको अंतिम विदाई दी.


मुख़्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने कहा कि हमारी मेरी दादी माँ रजा-ए-ईलाही इन्तिकाल फरमा गई. सभी अहले वतन से दुआ-ए-मगफिरत की दरख्वास्त है. आज हार आदमी की आँख इसलिए भी नम थी कि आज ही के दिन मुख़्तार अंसारी के पिताजी स्‍वतंत्रता संग्राम सेनानी व नगर पालिका मुहम्‍मदाबाद के पूर्व चेयरमैन सुभानउल्‍लाह अंसारी का निधन कुछ वर्ष पहले हुआ था. आज उनकी पुन्य तिथि भी थी. आज हर साथी को विधायक जी की याद आ रही थी, वहीँ इस बात की चर्चा भी थी कि आखिर आपनी माँ क जनाजे में शामिल होने की सरकार ने मंजूरी क्यों नहीं दी.



बाहुबली विधायक के बड़े बेटे व बसपा नेता अब्बास अंसारी ने बताया कि दादी की तबियत पिछले दो हफ्तो से खराब थी. लेकिन हालत नाजुक होने पर उन्‍हे अस्‍पताल लाया गया जहाँ चिकित्‍सको के अनुसार दादी की तबियत में कोई सुधार नही हो रहा था. ब्‍लड प्रेशर लगातार गिरता जा रहा है और शरीर के कई अंगो ने काम करना बंद कर दिया था. राबिया अंसारी के तबियत खराब होने की खबर सुनकर अंसारी बंधुओ के शुभचिंतको ने अस्‍पताल में जाकर हालचाल लिया. राबिया अंसारी के तीन पुत्र सिबगतुल्‍लाह अंसारी, अफजाल अंसारी और मुख्‍तार अंसारी है. इनकी तीन पुत्रियां भी है जो अपना खुशहाल वैवाहिक जीवन व्‍यतीत कर रही है.


राबिया अंसारी के पति स्‍वतंत्रता संग्राम सेनानी व नगर पालिका मुहम्‍मदाबाद के पूर्व चेयरमैन सुभानउल्‍लाह अंसारी की मौत कुछ वर्ष पहले ही हो चुकी है. पिछले कई दिनों से अंसारी परिवार के शुभचिंतक व राजनीतिक मित्र अंसारी बंधुओ के घर यूसुफपुर स्थित फाटक पर माँ का हालचाल लेने के लिए पहुँच रहे थे. विधायक मुख़्तार अंसारी यूपी की बांदा जेल में बंद है. फिलहाल उनको पेरोल नहीं मिली इसलिए आज जनाजे में शामिल नहीं होने की जानकारी मिली है. उनके तमाम शुभचिंतक और समर्थक उनके आवास पर पहुंचे हुए है.




Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it