Top
Begin typing your search...

यूपी एसटीएफ की बड़ी कामयाबी, गोंडा से अपह्रत व्यवसायी के मासूम को किया सकुशल बरामद, तीन आरोपी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

यूपी की बड़ी खबर

यूपी एसटीएफ की बड़ी कामयाबी, गोंडा से अपह्रत व्यवसायी के मासूम को किया सकुशल बरामद, तीन आरोपी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शुक्रवार शाम को उत्तर प्रदेश में उस समय हडकम्प मच गया जब गोंडा के कर्नलगंज इलाके के बड़े व्यवसाई के पांच साल के पौत्र के अपहरण का सनसनीखेज मामला सामने आया. इस मामले में भी कानपुर की तर्ज पर अपहरणकर्ताओं ने फोन पर परिजनों से फिरौती की चार करोड़ रुपए की डिमांड की गई. इस घटना को लेकर पुलिस में खलबली मच गई. पूरे मामले को लेकर पुलिस की सर्विलांस और एसओजी टीमें जानकारी इकट्ठा करने में जुट गई हैं. पुलिस ने दावा किया था कि शीघ्र ही अपहृत बच्चे को बरामद कर लिया जाएगा.

शुक्रवार को हुई इस वारदात को लेकर नगर में दहशत का माहौल बन गया. बच्चे के अपहरण के बाद बदमाशों द्वारा परिजन को फोन करके फिरौती मांगी थी. उसके बाद परिजनों में कोहराम मच गया. बताया जाता है कि पहले तो मामला छुपाने का प्रयास किया गया लेकिन बाद में पुलिस को सूचना दी गई.

इसकी जानकारी जब पुलिस के उच्चाधिकरियों को मिली तो डीजीपी और एडीजी कानून व्य्वस्य्था ने यह कमान एसटीएफ को सौंपी. एसटीएफ के तंत्र ने अपना जाल विछाकर इस मामले का पर्दाफास कर दिया. एसटीएफ ने जनपद गोंडा के कर्नलगंज क्षेत्र से सनसनीखेज ढंग से 6 साल के बच्चे का अपहरण कर 4 करोड़ की फिरौती मांगने वाले गिरोह के सूरज पांडे पुत्र राजेंद्र पांडे निवासी शाहपुर थाना परसपुर जनपद गोंडा हाल मुकाम सकरोरा थाना करनैलगंज जनपद गोंडा, छवि पांडे पत्नी सूरज पांडे, राज पांडेय s/o राजेन्द्र पांडेय, उमेश यादव पुत्र रमाशंकर यादव निवासी सकरोड़ा पूर्वी थाना करनैलगंज जनपद गोंडा और दीपू कश्यप पुत्र राम नरेश कश्यप निवासी सोनवारा थाना करनैलगंज जनपद गोंडा को एसटीएफ एवं जनपद गोंडा पुलिस के साथ मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया. जिसमें दो बदमाश दीपू और उमेश घायल हुए है. अपह्रत बालक सकुशल बरामद कर लिया गया है. अपहरण में प्रयुक्त आल्टो कार,एक 32 बोर की पिस्तौल ,दो 315 बोर तमंचा बरामद किये गए है. यह जानकारी एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश ने दी.

कैसे हुआ अपहरण

स्वास्थ्य विभाग का परिचय पत्र लेकर आए थे अपहरणकर्ता

शुक्रवार को करनैलगंज नगर के मोहल्ला गाड़ी बाजार में कस्बा पुलिस चौकी के पीछे रहने वाले गुटखा मसाला के एक बड़े विक्रेता राजेश कुमार गुप्ता के पांच वर्षीय पौत्र का बदमाशों ने अपहरण कर लिया. बताया जाता है कि एक कार से स्वास्थ्य विभाग का परिचय पत्र गले में टांग कर कुछ लोग मोहल्ले में मास्क का वितरण करने के लिए आए और लोगों का नाम एक कागज पर लिख रहे थे. मोहल्ले में सेनिटाइजेशन कराने व सेनिटाइजर का वितरण करने का झांसा भी दिया.

बताया जाता है कि अपहरणकर्ता जब राजेश गुप्ता के घर के सामने पहुंचे तो उन्होंने सेनिटाइजर देने की बात कही और 5 वर्षीय बच्चे को साथ में लेकर यह कहते हुए गए कि गाड़ी से सेनिटाइजर निकाल कर दे देते हैं. इतना कहकर बदमाश निकले और गाड़ी के पास पहुंचते ही बच्चे को लेकर फरार हो गए.

फिरौती मांगने पर हुई जानकारी

यह जानकारी परिवार वालों को तब हुई जब बच्चे के पिता हरि गुप्ता के मोबाइल पर बदमाशों ने कॉल किया. अपहरणकर्ताओं ने कहा कि चार करोड़ रुपए की व्यवस्था कर लो. बताया जा रहा है कि अपहरणकर्ताओं में कोई महिला शामिल नहीं थी, मगर एक महिला ही कॉल कर फिरौती मांगी. इसमें अनुमान लगाया जा रहा है कि वॉइस चेंजर के माध्यम से आवाज को बदलकर बात किया गया. फिलहाल घटना की सूचना मिलने के बाद तत्काल मौके पर पुलिस क्षेत्राधिकारी कृपा शंकर कनौजिया, कोतवाल राजनाथ सिंह और चौकी प्रभारी रणजीत यादव पहुंच गए. आज सभी पुलिस अधिकारी व कर्मचारी नगर में शुक्रवार की नमाज होने के कारण लगातार गश्त पर थे. पुलिस की गश्त तेज होने के बावजूद भी अपहरणकर्ताओं ने ऐसी घटना को अंजाम दे दिया.

पूरा करनैलगंज परेशान

बच्चे के अपहरण को लेकर परिजन क्या पूरा करनैलगंज सदमे में है. बच्चे के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. अनहोनी की आशंका से ग्रसित परिवार वालों के साथ नगर के लोग बच्चे के सकुशल घर वापसी की कामना भी कर रहे हैं. हालांकि देर शाम तक कोई सुराग नहीं लग सका था.अब बच्चा बरामद होने परकस्बा बासियों में ख़ुशी की लहर दौड़ गई है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it