Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गोरखपुर > देखते ही देखते लड़ाई कब संघर्ष में बदल गई, लोग समझ नहीं पाए, जब समझे तब देर हो चुकी थी और ...

देखते ही देखते लड़ाई कब संघर्ष में बदल गई, लोग समझ नहीं पाए, जब समझे तब देर हो चुकी थी और ...

 Special Coverage News |  22 Dec 2018 1:25 PM GMT  |  गोरखपुर

देखते ही देखते लड़ाई कब संघर्ष में बदल गई, लोग समझ नहीं पाए, जब समझे तब देर हो चुकी थी और ...
x

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के थाना खजनी के कुंवर जोत गांव में शुक्रवार की शाम एक मकान पर कब्जे को लेकर दो पक्षों के बीच खूनी संघर्ष हो गया. मिली जानकारी के मुताबिक इस खूनी संघर्ष में दोनो पक्षों के तीन लोगों की मौत हो गई है, जबकि मरने वालों में एक पक्ष से पति-पत्नी और दूसरे पक्ष से एक व्यक्ति शामिल है.

वहीं इस मामले की सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और तीनों मृतकों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया, बहरहाल इस घटना के बाद पूरे गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है और एहतियात के तौर पर पुलिस और पीएसी तैनात कर दी गई है, ताकि कोई और पुनरावृत्ति न हो.

कुंवर जोत गांव में एक मकान के कब्जे को लेकर दो पक्षों के बीच हुए विवाद ने तीन लोगों की जिंदगी लील ली. घटना के बाद मौके पर पहुंचे एसएसपी डा. सुनील गुप्ता ने बताया कि गांव के दुर्गा सिंह और मुंशी यादव के परिवार के बीच जमीन और मकान को लेकर रंजिश चल रही थी. दुर्गा सिंह चार भाई हैं दो भाई पारस और दुलारे रांची में रहते हैं. उन्होंने अपने हिस्से की 26 डिसमिल जमीन मनोहर उर्फ मुंशी यादव को बैनामा कर दिया था और मकान को अपने भाई दुर्गा सिंह को बैनामा कर दिया था.

एसएसपी ने बताया कि वहीं मुंशी यादव का कहना था. उन्होंने मकान भी खरीदा है इसी को लेकर दोनो पक्षों के बीच विवाद गहरा गया था, और फिर कहासुनी से शुरू हुई बात मारपीट में बदल गई. जिसमे 70 वर्षीय दुर्गा सिंह और उनकी पत्नी 60 वर्षीय कलावती देवी को लाठी-डंडे से पीटकर मनोहर उर्फ मंशी यादव के पक्ष के लोगों ने मौत के घाट उतार दिया. वहीं दुर्गा सिंह की मौत के बाद इस पक्ष ने भी धारदार हथियार से हमला कर मनोहर उर्फ मुंशी यादव को गंभीर रूप से घायल कर दिया. और अस्पताल ले जाते हुए मनोहर उर्फ मुंशी की मौत हो गई.

फिलहाल पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है. पुलिस घटना की जांच में जुट गई है. तिहरे हत्याकांड की घटना के बाद पूरे गांव में सन्नाठा पसरा हुआ है. प्रसाशन ने गांव में तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए एहतियातन पुलिस और पीएसी तैनात कर दी है. खबर लिखे जाने तक फिर किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं थी.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it