Top
Begin typing your search...

बीजेपी के सजायाफ्ता विधायक अशोक चंदेल ने किया फ़िल्मी अंदाज में कोर्ट में सरेंडर, पुलिस देखती रह गई

पूरे इलाके को छावनी छावनी तब्दील कर दी गई थई. कहा जा रहा है कि सरेंडर करने के दौरान विधायक के समर्थकों और पुलिस के बीच धक्का- मुक्की भी हुई.

बीजेपी के सजायाफ्ता विधायक अशोक चंदेल ने किया फ़िल्मी अंदाज में कोर्ट में सरेंडर, पुलिस देखती रह गई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर से एक बड़ी खबर सामने आई है. सामूहिक हत्याकांड के दोषी विधायक अशोक चंदेल ने फिल्मी अंदाज में कोर्ट में सरेंडर किया है. कोर्ट में सरेंडर करते वक्त उनके साथ बड़ी संख्या में समर्थक थे. उन्होंने अपने समर्थकों के साथ 'शोड शो' की तरह कोर्ट में सरेंडर किया . इस दौरान उनके समर्थकों ने कोर्ट के अंदर जमकर नारेबाजी की. वहीं, विधायक के कोर्ट में सरेंडर की आशंका के चलते पूरे क्षेत्र में पुख्ता सुरक्षा की व्यवस्था की गई थी. पूरे इलाके को छावनी छावनी तब्दील कर दी गई थई. कहा जा रहा है कि सरेंडर करने के दौरान विधायक के समर्थकों और पुलिस के बीच धक्का- मुक्की भी हुई.

बता दें कि 22 साल पहले 26 जनवरी 1997 को राजीव शुक्ला के दो भाइयों व एक भतीजे सहित पांच लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. पिछले महीने 19 अप्रैल को हाई कोर्ट ने अशोक सिंह चंदेल सहित नौ लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. स्थानीय अदालत ने आठ लोगों के खिलाफ हाई करोट के आदेश के अनुपालन में गिरफ्तारी वारंट जारी किया था. साथ ही कोर्ट ने पुलिस को 13 मई तक न्यायालय में पेश करने का आदेश भी दिया था. इसके बाद से पुलिस इन सभी दोषियों को गिरफ्तार करने के लए तलाशी कर रही थी.

इस बीच बीजेपी विधायक और अन्य छह सजायाफ्ता अभियुक्त अन्य सोमवार की सुबह अपनी फाच्र्यूनर कार से कोर्ट परिसर में पहुंचे. उनके आने से पहले करीब दो हजार समर्थकों की भीड़ कोर्ट के बाहर जमा हो चुकी थी. उनके आते ही समर्थकों ने नारेबाजी शुरू कर दी. सरेंडर को लेकर हमीरपुर, महोबा और बांदा का पुलिस फोर्स कोर्ट परिसर में मौजूद था लेकिन सजायाफ्ता पांच लोग सीधे एडीजे द्वितीय की कोर्ट कक्ष में प्रवेश कर गए. कोर्ट कक्ष में पहुंचने से पुलिस विधायक को गिरफ्तार नहीं कर सकी. हालांकि तीन सजायाफ्ता लोगों को कोर्ट आने से पहले पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

Special Coverage News
Next Story
Share it