Top
Begin typing your search...

हमीरपुर खनन घोटाले में पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति की मुश्किलें बड़ी!

हमीरपुर खनन घोटाले में पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति की मुश्किलें बड़ी!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हमीरपुर. अवैध खनन घोटाले की जांच को लेकर जिले में चार दिनों से कैंप कर रही सीबीआई की टीम अब सपा सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति पर शिकंजा कसने की तैयारी में है. जेल में बंद गायत्री प्रसाद प्रजापति से पूछताछ के लिए सीबीआई ने रणनीति बना ली है. सपा सरकार में खनिज मंत्री रहे गायत्री प्रजापति से सीबीआई पूछताछ करेगी, क्योंकि उनके ही कार्यकाल में सबसे ज्यादा मोरंग खनन के पट्टे हुए थे. आज सीबीआई की नोटिस के बाद खनन घोटाले में शामिल पूर्व सांसद घनश्याम अनुरागी के भी आने की संभावना है.

चार दिनों से हो रही पूछताछ

हमीरपुर में अवैध खनन घोटाले की परतें लगातार खुलती जा रही हैं. इसी के साथ घोटाले में शामिल नेता और अधिकारी भी इसमें फंसते जा रहे हैं. पिछले तीन दिनों में सीबीआई ने खनिज विभाग में तो छापेमारी की ही साथ ही डीएम और एडीएम से पूछताछ भी की. बुधवार सुबह से ही खनिज विभाग में हलचल तेज रही. दोपहर बाद सपा एमएलसी रमेश मिश्रा अपने भाई दिनेश मिश्रा के साथ सीबीआई कैम्प में पेश हुए. सीबीआई ने उनसे लगभग 5 घंटे तक पूछताछ की.

रमेश मिश्रा सपा शासन में बड़े खनन व्यापारी थे जिनके नाम आईएएस बी चन्द्रकला ने सबसे ज्यादा मोरंग खनन के लिए पट्टे किये थे. शाम होते होते सीबीआई सदर कोतवाली भी पहुंची जहां से सपा शासनकाल में मोरंग खनन और ट्रकों में ओवर लोडिंग के दौरान की गई कार्यवाई के दस्तावेज इकठ्ठे किये. कोतवाली से निकलकर सीबीआई फिर एकबार डीएम ऑफिस पहुंची, वहां स्टेनो बाबू विनय से मिली और वंहा से भी जरूरी कागज लेकर कैंप ऑफिस वापस लौट गई. ये सिलसिला देर शाम तक चला.

गायत्री के मंत्री रहते सबसे ज्यादा पट्टे बंटे

इन सब के बीच सीबीआई ने अब सपा सरकार में काबिज खनिज मंत्री से पूछताछ की रणनीती तैयार कर ली है. जिसके लिए तैयारी भी कर ली गई है. जेल में बंद गायत्री प्रजापति की मुश्किलें इसके चलते बढ़ती नजर आ रही है. खनिज मंत्री के पद पर रहे गायत्री प्रजापति के समय में बड़े पैमाने पर अवैध पट्टे किये गये. सपा सरकार में हुए 63 पट्टो में 49 पट्टे गायत्री के पद पर रहने के दौरान हुए. याचिकाकर्ता विजय द्विवेदी की माने तो अवैध खनन गायत्री प्रजापति और अन्य सफेदपाशों के इशारे पर डीएम के माध्यम से हुआ.

Next Story
Share it