Top
Begin typing your search...

हमीरपुर: भाई के अंतिम संस्कार से पहले बहन ने लगाया मां बाप पर हत्या का आरोप, जांच शुरू

हमीरपुर में बेटे की हत्या माँ बाप पर लगा

हमीरपुर: भाई के अंतिम संस्कार से पहले बहन ने लगाया मां बाप पर हत्या का आरोप, जांच शुरू
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हमीरपुर. उत्तर प्रदेश के यूपी के हमीरपुर (Hamirpur) जिले में एक युवक की संदिध अवस्था में मौत के बाद मृतक के परिजनों ने बिना पुलिस की जानकारी ही शव का अंतिम संस्कार (Last Rite) करने की तैयारी कर ली. लेकिन इसी बीच बहन ने मामले में अपने भाई की ह्त्या का आरोप अपने पिता और सौतेली मां पर लगा दिया. जिससे हड़कंप मच गया. मामले में बहन ने पुलिस से अंतिम संस्कार रुकवाने की गुहार लगाते हुए पोस्टमार्टम करवाने की मांग कर डाली. मृतक की बहन की मांग पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. मामले की जांच शुरू कर दी है.

दरअसल 25 वर्षीय मेहर सिंह की उसके घर में ही संदिध अवस्था में मौत हो गई. आनन-फानन में परिजनों ने अंतिम संस्कार का इंतजाम भी कर दिया. शव को लेकर सब श्मशान घाट भी पहुंच गये लेकिन इसी बीच मृतक की बहन नीतू ने मां और पिता पर ही हत्या का आरोप लगाकर सबको हैरत में डाल दिया. इसके बाद मामले की शिकायत पुलिस तक पहुंची. पुलिस ने श्मशान घाट पहुंचकर अंतिम संस्कार रुकवा दिया और शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया.

मामला हमीरपुर जिले के सुमेरपुर थाना कस्बे का जहां रहने वाले मंगल सिंह ने पहली शादी रेखा सिंह से की थी, जिससे तीन बच्चे हुए. शादी के 4 साल बाद रेखा की मौत हो गई. पत्नी की मौत के बाद मंगल सिंह ने दूसरी शादी राधा से कर ली. आरोप है कि राधा ने तीनों बच्चों के साथ सौतेलाना व्यवहार करना शुरू कर दिया. बच्चे धीरे-धीरे बड़े हो गये लेकिन सौतेली मां की जुल्म और सितम सहन करते रहे. पिता के सहयोग से वो घर से दूर रखकर पढ़ाई कर रहे थे.

बहन ने बताया कि पहली शादी से हुए बेटे मेहर सिंह शादी के योग्य हो गया तो समाज और रिश्तेदारों के दबाब में उसके शादी तय कर दी गई. 11 जून को शादी होनी थी लेकिन किसी कारणवश टूट गई दोबारा फिर दूसरी जगह शादी तय हुई, जो 15 जनवरी को होनी थी लेकिन आज उसकी संदिध अवस्था में मौत हो गई. इसके बाद परिजनों ने बिना किसी के बाताये उसका अन्तिम संस्कार करने की तैयारी शुरू कर दी. इसी बीच उसकी बहन नीतू सिंह को उसकी मौत की जानकारी मिली तो उसने पुलिस से अंतिम संस्कार रुकवाने की गुहार लगाई. मामले में एएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस ने श्मशान घाट पहुंचकर अंतिम संस्कार रुकवाते हुए. शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेजते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है.

Special Coverage News
Next Story
Share it