Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > हरदोई > हरदोई में डीएम एसपी आमने सामने, डीएम ने दिया था दरोगा को सस्पेंड करने का आदेश, एस पी ने किया रद्द

हरदोई में डीएम एसपी आमने सामने, डीएम ने दिया था दरोगा को सस्पेंड करने का आदेश, एस पी ने किया रद्द

 Special Coverage News |  12 Aug 2019 10:05 AM GMT  |  हरदोई

हरदोई में डीएम एसपी आमने सामने, डीएम ने दिया था दरोगा को सस्पेंड करने का आदेश,                                      एस पी ने किया रद्द
x

हरदोई रविवार की रात हरदोई जिले के डीएम पुलकित खरे ने एक चौकी इंचार्ज को सिर्फ इसलिए सस्पेंड कर दिया था क्योंकि उन्होंने सड़क पर गाय देख ली थी. मामला सामने आते ही पुलिस विभाग में हड़कम्प मच गया. न सिर्फ सोशल मीडिया पर पुलिसकर्मियों ने बल्कि पुलिस अफसरों ने भी इस निलम्बन को गलत ठहराया. जिसके बाद जिले के एसपी न सिर्फ इस निलम्बन को रद्द किया बल्कि खुद को हमेशा पुलिसकर्मियों के साथ खड़े होने की बात भी कही.

जिलाधिकारी ने किया था निलम्बन

जानकारी के मुताबिक, हरदोई जिलाधिकारी पुलकित खरे ने बेसहारा पशुओं को गोशालाओं में पहुंचाने के लिए खंड विकास अधिकारियों और नगर क्षेत्र में अधिशासी अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई थी. थानाध्यक्षों और चौकी प्रभारियों को उनकी मदद का आदेश दिया गया था. रविवार की देर शाम लखनऊ चुंगी के पास पशुओं का झुंठ बैठा मिला. इसमें मंडी चौकी प्रभारी की लापरवाही सामने आई. जिस पर मंडी चौकी प्रभारी संजय शर्मा को निलंबित कर दिया गया है.

एसपी ने दिया चौकी इंचार्ज का साथ

मामले के सामने आने के बाद पुलिसकर्मियों ने रात में एसपी से मिलकर शिकायत की थी. जिसके बाद सोमवार की सुबह ही हरदोई एसपी आलोक प्रियदर्शी ने खुद को जिले की पुलिस का मुखिया बताकर इस आदेश को रद्द कर दिया. एसपी ने साफ़ तौर पर अपने अधिनस्थों से कहा कि वो हमेशा उनके साथ खड़े हैं.

रिपोर्ट ओम त्रिवेदी

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it