Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कन्नौज > पत्नी से फोन पर बात कर रहा था जवान..और हो गया धमाका..फिर छा गया सन्नाटा... पत्नी ने रोते-रोते बताई पूरी बात

पत्नी से फोन पर बात कर रहा था जवान..और हो गया धमाका..फिर छा गया सन्नाटा... पत्नी ने रोते-रोते बताई पूरी बात

मेरी उनसे बात हो रही थी कि एकाएक फोन पर धमाका सुनाई दिया इसके बाद फोन भी कट गया?

 Special Coverage News |  15 Feb 2019 4:21 AM GMT  |  दिल्ली

पत्नी से फोन पर बात कर रहा था जवान..और हो गया धमाका..फिर छा गया सन्नाटा... पत्नी ने रोते-रोते बताई पूरी बात
x

कन्नौज : मेरी उनसे बात हो रही थी कि एकाएक फोन पर धमाका सुनाई दिया इसके बाद फोन भी कट गया। मैं बैचैन हुई दोबारा काई बार फोन मिलाया, लेकिन लगा नहीं। फिट टीवी पर जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले कि ख़बर देखी तो दिल बैठ गया। उसके बाद पति का हाल जानने के लिए छटपटाती रही लेकिन कोइ जानकर नहीं मिली। शाम को कंट्रोल रूम से फोन आया और उनकी शाहदत की ख़बर मिली। बस इतना बोलकर बोलकर पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए तिर्वा, कन्नौज के सुखसेनपुर गांव निवासी प्रदीप सिंह यादव की पत्नी नीरज फफक-फफक कर रो पड़ी।

पुलवामा में हुए आतंकी हमले में यूपी के कन्नौज जिले का लाल शहीद हो गया। तिर्वा के सुखसेनपुर निवासी जवान प्रदीप सिंह यादव भी उस बटालियन में शामिल थे, जिसे आंतकियों ने निशाना बनाया। रात में यह खबर आई तो परिजनों पर गम का पहाड़ टूट पड़ा। जिले में शोक की लहर दौड़ गई।

10 फरवरी को जम्मू रवाना हुए थे

प्रदीप का परिवार कानपुर में कल्याणपुर के बारासिरोही में रहता है। उनकी दो बेटियां सुप्रिया(10) व छोटी (2) हैं। परिवार के साथ ही प्रदीप का मौसेरा भाई सोनू भी रहता है। सोनू ने बताया कि छुट्टी खत्म होने पर 10 फरवरी को वह जम्मू रवाना हुए थे। 11 जनवरी को वह जम्मू पहुंचे। बुधवार सुबह भी उन्होंने घर पर फोन किया था। आखिरी बार भाभी से ही बात की थी। करीब 10 मिनट ही बात हुई थी।

छोटी बेटी की यादों में खोये थे

पत्नी ने बताया कि प्रदीप दो साल की बेटी छोटी से बेहद प्रेम करते थे। 10 मिनट की हुई बातों में उन्होंने करीब सात मिनट तो सिर्फ छोटी के साथ बिताए पलों को याद किया और उसकी हर अठखेलियों को याद कर खुद गुदगुदाया भी, लेकिन सोचा नहीं था, यह फोन पर की हुई बात आखिरी होगी।

तिर्वा के अजान-सुखसेनपुर निवासी प्रदीप सिंह यादव सीआरपीएफ में थे। गुरुवार को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में साथियों के साथ प्रदीप भी शहीद हो गए। शहादत की खबर से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। गांव में भी मातम का माहौल है। एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने प्रदीप की शहादत की पुष्टि की है।

प्रदीप सिंह यादव श्रीनगर में 115 बटालियन में सिपाही थे। चार दिन पहले छुट्टी गुजार कर लौटे थे। एक मकान कानपुर के बारा सिरोही में है। वहां पत्नी नीरज देवी और दो बेटियां 10 वर्षीय सुप्रिया यादव और ढाई साल की सोना यादव हैं। 10 फरवरी को परिवार से विदा होकर वह जम्मू रवाना हुए थे। 11 जनवरी को वह जम्मू पहुंचे।

37 जवान शहीद

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF के काफिले पर आतंकी हमले में 37 जवान शहीद हो गए। इसके बाद सरकार और सुरक्षा एजेंसियां ऐक्शन मोड में हैं। एक ओर जहां पीएम मोदी ने आज एक आपात बैठक बुलाई है, वहीं सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह आज कश्मीर के दौरे पर जाएंगे।

कई देशों ने की निंदा

कश्मीर में हुए इस आतंकी हमले की पूर दुनिया निंदा कर रही है। संयुक्त राष्ट्र , अमेरिका इजरायल, फ्रांस, श्री लंका, भूटान समेत कई देशों ने निंदा की है।

पाक ने दी ये सफाई

पाकिस्तान ने इस हमले को लेकर सफाई देते हुए लिखा है, 'भारत अधिकृत कश्मीर के पुलवामा में हुआ हमला चिंता का विषय है। विश्व में कहीं पर भी होने वाली हिंसा की गतिविधियों की हम कड़ी निंदा करते हैं। इसके साथ ही बिना जांच के भारतीय मीडिया और सरकार द्वारा हमले का लिंक पाकिस्तान से जोड़े के तमाम आक्षेपों को सिरे से खारिज करते हैं।'


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it