Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कानपुर > बीच सड़क पर महिला सिपाही ने 33 सेकेंड में मारे 22 जूते, वजह जान सब हैरान

बीच सड़क पर महिला सिपाही ने 33 सेकेंड में मारे 22 जूते, वजह जान सब हैरान

 Sujeet Kumar Gupta |  10 Dec 2019 8:41 AM GMT  |  नई दिल्ली

बीच सड़क पर महिला सिपाही ने 33 सेकेंड में मारे 22 जूते, वजह जान सब हैरान
x

कानपुर। महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों को लेकर सरकार पर हमेशा से सवाल उठते रहते है वही कानपुर में एंटी रोमियो स्‍क्वॉड की महिला सदस्य ने सड़क पर इंसाफ का नजारा पेश किया. महिला कॉन्‍स्टेबल ने लड़कियों पर फब्तियां कस रहे शोहदे को पकड़ लिया. जिसके बाद महिला कॉन्‍स्टेबल ने अपना जूता उतारकर उसकी जमकर पिटाई की सरेराह महिला कॉन्‍स्टेबल ने शोहदे को जूतों से जमकर पीटा. बाद में पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर थाने ले आई

गौरतलब है कि पुलिस को लगातार क्षेत्र में स्कूल जाने वाली लड़कियों से छेड़छाड़ करने की शिकायत मिल रही थी लगातार मिल रही शिकायतों को ध्यान में रखकर मंगलवार को पुलिस गर्ल्स कॉलेज के आसपास सक्रिय थी।

तभी बिठूर क्षेत्र निवासी एक शोहदा वहां से निकल रहीं छात्राओं पर अभद्र कमेंट कर रहा था। यह देख वहां पहले से मौजूद एंटी रोमियो टीम ने शोहदे को दबोच लिया। कांस्टेबल चंचल चौरसिया ने छात्राओं के सामने ही उसे सबक सिखाया।

एंटी रोमियो स्‍क्वॉड की टीम मंगलवार सुबह से ही स्कूल के रास्ते पर तैनात थी. पुलिस ने एक शोहदे को रंगे हाथों पकड़ लिया. जिसके बाद महिला पुलिसकर्मी चंचल चौरसिया ने शोहदे को खूब सबक सिखाया. सड़क में ही उसने हाथ में जूता उठा लिया और दे 33 सेकेंड मे दनादन 22 जूते जड़ दिए. आरोपी से छात्राओं के सामने हाथ जोड़कर माफी भी मांगने को कहा गया। बिठूर थानाध्यक्ष ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि एक शोहदे को थाने लाया गया है। उसके खिलाफ धारा 294 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

मामले में एसपी वेस्ट डॉ अनिल कुमार का कहना है कि शहर में महिला संबंधी अपराधों को गंभीरता से लिया जा रहा है. लड़कियां मामलों की शिकायत करने के लिए आगे आएं. पुलिस शिकायतों को गंभीरता से लेकर कार्रवाई करेगी।


Tags:    
Next Story
Share it