Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कानपुर > कानपुर कांड: टीवी स्टूडियो में LIVE सरेंडर करेगा विकास दुबे? ड्रामे को रोकने के लिए फिल्म सिटी में भारी पुलिस मुस्तैद

कानपुर कांड: टीवी स्टूडियो में LIVE सरेंडर करेगा विकास दुबे? ड्रामे को रोकने के लिए फिल्म सिटी में भारी पुलिस मुस्तैद

 Arun Mishra |  8 July 2020 3:15 PM GMT  |  दिल्ली

कानपुर कांड: टीवी स्टूडियो में LIVE सरेंडर करेगा विकास दुबे? ड्रामे को रोकने के लिए फिल्म सिटी में भारी पुलिस मुस्तैद
x

कानपुर शूटआउट का मुख्य अभियुक्त व हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे टीवी स्टूडियो में जाकर लाइव सरेंडर करने की फिराक में है. विकास दुबे नोएडा के किसी निजी न्यूज़ चैनल के स्टूडियो में आने की ख़बर पर सेक्टर 16 फ़िल्म सिटी में आने और जाने वाले सभी रास्तों पर भारी पुलिस तैनात है। हर आने जाने वाली गाड़ियों की चेकिंग की जा रही है। नोएडा पुलिस स्टूडियो में लाईव टीवी पर सरेंडर के ड्रामे को रोकना चाहती है।

नोएडा सेक्टर-16 स्थित फिल्म सिटी जाने वाले सभी रास्तों पर भारी पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। लाइव सरेंडर के ड्रामे को पुलिस हर हाल में रोकने के लिए जुट गई है।

कानपुर के बिकरू गांव में गैंगस्टर विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस की टीम पर हुई फायरिंग में अधिकारी समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। इस घटना के बाद से ही यूपी पुलिस और एसटीएफ की टीम विकास दुबे की तलाश कर रही है। इसी सिलसिले में दिल्ली के पास फरीदाबाद में बुधवार सुबह पुलिस ने रेड मारी थी। पुलिस को सूचना मिली थी कि विकास दुबे यहां पर मौजूद है। हालांकि पुलिस के पहुंचने के पहले ही वह फरार हो गया। इस रेड में फरीदाबाद पुलिस ने विकास दुबे के तीन सहयोगियों को गिरफ्तार कर लिया है।

यूपी का सबसे अधिक इनामी राशि वाला अपराधी

दूसरी तरफ, वारदात के इतने बाद भी पुलिस गिरफ्त से बाहर विकास दुबे पर इनाम की राशि बढ़ाकर पांच लाख रुपए कर दी गई है। इसके साथ ही वह प्रदेश का सबसे अधिक इनामी राशि वाला अपराधी हो गया है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने इसकी घोषणा की। इससे पहले डीजीपी एचसी अवस्थी ने इनाम की राशि एक लाख रुपए से बढ़ाकर ढाई लाख रुपए कर दी थी। इस घटना से पहले विकास पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित था। छह दिनों में उस पर घोषित इनाम की राशि चार बार बढ़ाई गई। विकास के घर दबिश देने गए डीएसपी सहित आठ पुलिस कर्मियों की शहादत को भी छह दिन हो चुके हैं। विकास की तलाश में पुलिस की 60 टीमें और एसटीएफ की छह टीमें यूपी के अलावा हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान व मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में छापेमारी कर रही हैं।

आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद कानपुर के चौबेपुर थाने में आईपीसी की धारा- 147, 148, 149, 302, 307 व 394 के अलावा सात सीएलए एक्ट के तहत विकास दुबे और उसके साथियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है। इसी मुकदमे में गिरफ्तारी के लिए उस पर इनाम घोषित किया गया है।

विकास दुबे गिरोह का शार्पशूटर मारा गया

कुख्यात अपराधी और आठ पुलिस कर्मियों की हत्या में आरोपित विकास दुबे गिरोह के शार्पशूटर अमर दुबे को हमीरपुर के मौदहा में पुलिस और एसटीएफ ने संयुक्त ऑपरेशन में मार गिराया। घटना में मौदहा कोतवाल व एसटीएफ सिपाही हाथ में गोली लगने से घायल हो गए। दोनों को सदर अस्पताल रेफर किया गया है। अमर विकास दुबे का भतीजा बताया जा रहा है। एसटीएफ व पुलिस ने उसके कब्जे से एक आटोमैटिक पिस्टल बरामद की है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it