Top
Begin typing your search...

यूपी के कानपुर में लॉकडाउन में मंदिर जा रहे बुजुर्ग को थानेदार ने मेढक की तरह चलवाया, देखिये वीडियो

कानपुर के पनकी में तैनात थानेदार विनोद कुमार सिंह ने नियमों का हवाला देकर एक बुजुर्ग को न सिर्फ अपमानित किया बल्कि उसे मेढक चाल चला कर मंदिर तक जाने का फरमान भी सुना डाला

यूपी के कानपुर में लॉकडाउन में मंदिर जा रहे बुजुर्ग को थानेदार ने मेढक की तरह चलवाया, देखिये वीडियो
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर. कोरोनावायरस (Coronavirus) से जंग में जहां पुलिस (Police) के सेवाभाव से खाकी के प्रति लोगों में सम्मान पैदा हुआ है, वहीँ कुछ कर्मी ऐसे भी हैं जो अपनी हरकतों से साख पर बट्टा लगाने से नहीं चूक रहे. ऐसा ही कुछ कानपुर (Kanpur) में देखने को मिला, जहां एक थानेदार ने एक बुजुर्ग को सिर्फ इस वजह से मेढक की तरह चलवाया क्योंकि उसने लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान मंदिर जाने का गुनाह किया था. बुजुर्ग द्वारा माफ़ी मांगने के बाद भी थानेदार ने बुजुर्ग को सजा दी और उससे मंदिर तक की दूरी मेढक की तरह चलवाकर पूरी करवाई. पुलिस के इस अमानवीय चेहरे का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस अधिकारी ने कार्रवाई की बात कही है.

कानपुर के पनकी में तैनात थानेदार विनोद कुमार सिंह ने नियमों का हवाला देकर एक बुजुर्ग को न सिर्फ अपमानित किया बल्कि उसे मेढक चाल चला कर मंदिर तक जाने का फरमान भी सुना डाला. यह सूचना जब अधिकारियों को लगी तो अधिकारी हरकत में आए. पुलिस अपर महानिदेशक जय नारायण सिंह ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए.

सोशल मीडिया पर वायरल है वीडियो

इस वायरल वीडियो में पनकी थाने के थानेदार विनोद कुमार सिंह मंदिर जा रहे बुजुर्ग को बीच रास्ते में रोककर उसे पूछते हैं. कि हाथ में फूल की थाली और लोटे में जल कहां जा रहे हो. बुजुर्ग ने बताया कि मंदिर के बाहर पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाने जा रहा हूं. लेकिन लॉकडाउन की दुहाई देते हुए थानेदार ने पहले तो बुजुर्ग को भला बुरा कहा और उससे माफी तक मंगवाई. इसके बाद उसके पूजा की थाली पर जल डाल दिया और कहा कि भगवान अपने भक्तों की परीक्षा लेता है. इसलिए उन्हें भी परीक्षा देनी होगी. थानेदार ने बुजुर्ग को मेढक की तरह चलते हुए मंदिर तक जाने को कहा. मिन्नतों के बाद भी थानेदार नहीं माने और बुजुर्ग को मेढक की तरह चलकर मंदिर ताका जाना पड़ा.

जांच के बाद कार्रवाई की बात

इस पूरे मामले पर एडीजी जय नारायण सिंह ने कहा कि एक वीडियो उनके भी संज्ञान में आया है. उन्होंने जांच के आदेश दे दिए हैं. इस तरह का दुर्व्यवहार थानेदार द्वारा किया गया है जो कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. जांच रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी.



Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it