Top
Begin typing your search...

CORONA से ठीक हुए मौलाना फूट-फूट कर रोए, कोरोना वॉरियर्स से माफी मांगते हुए लिखा ये संदेश

उत्तर प्रदेश में जमातियों द्वारा कोरोना वॉरियर्स से बदसलूकी के कई मामले सामने आए थे. लेकिन आज कानपुर से अनोखी तस्वीर सामने आई है. जहां हैलट अस्पताल से कोरोना की जंग जीतकर डिस्चार्ज हुए मदरसे के छात्र, मौलाना समेत 17 लोगों ने डॉक्टर से माफी मांगी.

CORONA से ठीक हुए मौलाना फूट-फूट कर रोए, कोरोना वॉरियर्स से माफी मांगते हुए लिखा ये संदेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: उत्तर प्रदेश में जमातियों द्वारा कोरोना वॉरियर्स से बदसलूकी के कई मामले सामने आए थे. लेकिन आज कानपुर से अनोखी तस्वीर सामने आई है. जहां हैलट अस्पताल से कोरोना की जंग जीतकर डिस्चार्ज हुए मदरसे के छात्र, मौलाना समेत 17 लोगों ने डॉक्टर से माफी मांगी. उन्होंने अस्पताल के गेट पर रो-रोकर क्षमा मांगते हुए कोरोना योद्धाओं के लिए दुआ मांगी. साथ ही कागज पर डॉक्टरों के लिए शुभ संदेश भी लिखे.

दरअसल कोरोना संक्रमण की वजह से कानपुर के हैलट अस्पताल में मदरसे के कई छात्रों और मौलानाओं को भर्ती किया गया था. इस दौरान डॉक्टर्स से बदसलूकी के कई मामले सामने आए थे. बावजूद इसके कोरोना वॉरियर्स ने अपना फर्ज निभाते हुए 17 लोगों को पूरी तरह से ठीक करने के बाद तालियां बजाकर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया. डॉक्टर्स के इस समर्पण को देखकर कुली बाजार मदरसे के मौलाना के साथ छात्रों ने ना सिर्फ तालियां बजाई बल्कि रो-रोकर अपनी गलती के लिए माफी भी मांगी. जिसे देखकर डॉक्टर्स भी काफी खुश हुए.

डॉक्टर आरके मौर्या ने बताया कि कुली बाजार मदरसे से मौलाना के साथ 32 छात्र भी पॉजिटिव आये थे. इन सबको दिल्ली से आए जमातियों से संक्रमण मिला था. इनमें से 17 लोगों को ठीक कर डिस्चार्ज कर दिया गया है. कोविड अस्पताल के एमएस डॉ. प्रेम शंकर शर्मा ने कहा कि बहुत खुशी होती है जब हमारी मेहनत रंग लाती है मगर इस बार सभी स्टाफ का बहुत उत्साहवर्धन हुआ है, क्योंकि ठीक हुए मरीजों ने उनकी सलामती की दुआ मांगने के साथ कागज पर उनके लिए अच्छे संदेश भी लिखे हैं.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it