Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कानपुर > हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर पुलिस ने रखा 2.5 लाख रुपये का इनाम

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर पुलिस ने रखा 2.5 लाख रुपये का इनाम

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर डीजीपी ने घोषित इनाम की राशि बढ़ा दी है।

 Arun Mishra |  6 July 2020 8:09 AM GMT  |  दिल्ली

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर पुलिस ने रखा 2.5 लाख रुपये का इनाम
x

कानपुर : आठ पुलिस कर्मियों की हत्या में शामिल रहे हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर डीजीपी ने घोषित इनाम की राशि बढ़ा दी है। कुख्यात हिस्ट्री शीटर विकास दुबे पर इनाम की राशि बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये की गई। यह जानकारी यूपी डीजीपी के ऑफिस ने दी है। बता दें कि कानपुर में पुलिस टीम पर हमले के बाद से ही विकास दुबे फरार चल रहा है।

चास हजार रुपये के इनामी हिस्ट्रीशीटर बदमाश विकास दुबे पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था। आईजी रेंज मोहित अग्रवाल ने विकास दुबे पर ईनाम की राशि बढ़ाकर ढाई लाख रुपये करने का प्रस्ताव रखते हुए फाइल डीजीपी कार्यालय भेजी थी।

बिकरू गांव में सीओ समेत आठ पुलिस जवानों की हत्या में अब तक की जांच में तीन पुलिस वाले मुखबिरी के शक में टारगेट पर थे, प्रथम दृष्टता जांच में ड्यूटी में लापरवाही किए जाने पर थाना चौबेपुर के उपनिरीक्षक कुंवर पाल और कृष्ण कुमार शर्मा तथा सिपाही राजीव को एसएसपी दिनेश कुमार पी ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

मोस्टवांटेड एक लाख के इनामी विकास दुबे के पोस्टर जगह जगह चस्पा कराए गए हैं। उन्नाव में पुलिस ने लखनऊ-कानपुर हाईवे पर अजगैन थाना क्षेत्र में टोल प्लाजा के हर बूथ पर इनामी अपराधी विकास दुबे का पोस्टर चस्पा किया गया है। ताकि टोल बूथ पर वाहनों से गुजरने वाले भी उसकी पहचान कर सकें, वहीं टोल बूथों के हर कर्मी को प्रत्येक वाहन में सवार लोगों पर निगाह रखने की सलाह दी गई है।

हमले के दौरान बिकरू की बिजली काटने के मामले में नया मोड़ आया है। एसएसपी ने स्वीकार किया है कि कॉल किसी सिपाही ने नहीं बल्कि निलंबित थाना प्रभारी ने ही की थी, हालांकि अभी मामले की जांच चल रही है।

मोस्ट वांटेड हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के साथ वारदात में शामिल रहे साथी दयाशंकर अग्निहोत्री उर्फ कल्लू को पुलिस ने पूछताछ की तो उसने बताया है कि घटना से चार घंटे पहले थाने से दबिश पड़ने की सूचना मिली थी। इसके बाद विकास ने असलहों से लैस तीस शाॅर्प शूटरों को बुलवाया था।

मोस्ट वांटेड एक लाख के इनामी हिस्ट्रीशीटर बदमाश विकास दुबे को पकड़ने के लिए 60 टीमों में 900 पुलिस जवान लगाए गए हैं। आईजी मोहित अग्रवाल के मुताबिक मंडल स्तर पर पुलिस की 40 टीमों को लगाया गया है, जबकि मुख्यालय स्तर से भी 20 टीमों को मोस्टवांटेड विकास दुबे की तलाश में लगाया गया है। इसमें एसटीएफ की भी छह टीमेंं शामिल हैं। इस सर्च ऑपरेशन में करीब 900 पुलिस वाले प्रदेश और प्रदेश से बाहर हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की तलाश कर रहे हैं।

Tags:    
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it