Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कौशाम्बी > कौशाम्बी: पुलिस पिटाई से सैनी कोतवाली में अधेड की मौत

कौशाम्बी: पुलिस पिटाई से सैनी कोतवाली में अधेड की मौत

सम्पत्ति कब्जा कराने के नियत से तो कही पुलिस ने ठेका लेकर तो नही कर दी अधेड की हत्या

 Shiv Kumar Mishra |  23 Feb 2020 1:21 PM GMT  |  कौशाम्बी

कौशाम्बी: पुलिस पिटाई से सैनी कोतवाली में अधेड की मौत

सुशील केशरवानी

कौशाम्बी सैनी कोतवाली में पुलिस पिटाई से एक अधेड की मौत हो गयी है हवालात में जिस युवक की मौत हुयी है वह पुलिस अभिलेखो में बेकसूर है मृतक युवक के पास प्रतापगढ फतेहपुर जनपद समेत कौशाम्बी में कई करोड कीमत की कृषि योग्य भूमि और मकान है। मकान पर लोग कब्जा करना चाहते थे कही अवैध कब्जा धारको के ठेके पर सैनी पुलिस ने अधेड की पीट पीट कर हत्या तो नही कर दी यह बडी जॉच का विषय है

हवालात में अधेड की मौत के मामले में अभी तक सैनी कोतवाली पुलिस पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर हत्यारे पुलिसकर्मियो को गिरफ्तार करने का प्रयास पुलिस आलाधिकारियो ने नही किया है। पुलिस हिरासत में मौत के बाद पुलिस उसका इलाज कराने सिराथू पीएचसी और जिला अस्पताल लेकर पहुची लेकिन चिकित्सको ने उसकी मौत की पुष्टि कर दी है पुलिस ने लाश को पीएम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के मुताबिक सैनी कोतवाली के कनवार गांव निवासी राजेन्द्र सिंह उर्फ मुन्ना सिंह की 35 पैतीस वर्ष पूर्व हत्या कर दी गयी थी। घर में उनकी बूढी पत्नी माधुरी सिंह और बेटा रिकूं सिंह रहते है। रिंकू सिंह की दो शादिया हुयी है और बीमारियो के चलते दोनो पत्नियो की मौत हो चुकी है। पहली पत्नी से उनकी एक बेटी दीपाली सिंह है जो लखनऊ में एक रिस्तेदार के घर रहकर पढाई कर रही है।

रिंकू सिंह सम्पत्ति से धनी थे और कनवार गांव में 3 करोड की सम्पत्ति के साथ प्रतापगढ में भी ढाई करोड कीमत की सम्पत्ति और फतहेपुर जनपद के बिन्दकी में भी करोडो के मकान जमीन के वह मालिक थे। इन दिनो वह गांव में घर बनवा रहे थे। रिंकू सिंह शराब पीने के शौकीन थे लेकिन आधी उम्र बीत जाने के बाद उन पर किसी प्रकार का अपराधिक दाग न तो समाज में लग सका था और न ही पुलिस अभिलेख में उनके विरूद्ध कोई अभियोग पंजीकृत है।

शनिवार की शाम सैनी पुलिस रिंकू सिंह को उनके घर से पकड लायी घर में कोई न होने से उनकी बूढी मॉ ने घर में काम कर रहे राजगीर बबली सिंह और मजदूरो को थाने भेजा लेकिन पुलिस ने रिंकू सिंह को नही छोडा सुबह फिर राजगीर बबली सिंह रिंकू सिंह को छुडाने थाने गये जिस पर कोतवाली की हवालात में रिंकू सिंह पडे थे काफी देर तक बबली सिंह उन्हे आवाज देते रहे लेकिन वह नही जागें। जिस पर पुलिस ने कहा कि वह सो रहा है और पुलिस ने रूपयो की डिमांड की बबली सिंह गांव गये और तीन हजार रूपया लेकर पुलिस को देने थाने आये लेकिन इस बार भी रिंकू सिंह हवालात में चित्त पडे रहे जिस पर बबली सिंह को आशंका हुयी कि पुलिस ने रिंकू सिंह की हत्या कर दी। बबली सिंह यादव कोतवाली से बाहर आये कि पुलिस इलाज के बहाने लेकर उन्हे अस्पताल पहुच गयी लेकिन चिकित्सको ने रिंकू सिंह की मौत की पुष्टि कर दी।

हवालात में मौत के बाद पुलिस का ड्रामा शुरू

कौशाम्बी हवालात में रिंकू सिंह की मौत के बाद सैनी कोतवाली पुलिस ने कहानी गढनी शुरू कर दी है और कोतवाली पुलिस का कहना है कि रिंकू सिंह के पास सवा किलो गांजा बरामद हुआ है। यह बात ग्रामीणो को हजम नही हो रही है। हत्यारी पुलिस पर अभी तक मुकदमा नही दर्ज हो सका है। ग्रामीणो ने ठेके पर हत्या करने वाली सैनी पुलिस पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग योगी सरकार से की है।

इसके पूर्व भी सैनी हवालात में हुयी थी मौत

कौशाम्बी सैनी कोतवाली की हवालात में इसके पहले भी पिटाई से मौत हो चुकी है। पूर्व में हवालात में मौत के मामले में तत्कालीन इंस्पेक्टर को आलाधिकारियो ने निलम्बित तो कर दिया था लेकिन आज तक हिरासत में मौत के मामले में पुलिस पर हत्या का मुकदमा नही दर्ज हुआ है इस बार भी हत्यारी पुलिस को बचाने का आलाधिकारी बचाने का प्रयास करेगें।

अपर पुलिस अधीक्षक करेगें जॉच

कौशाम्बी सैनी कोतवाली के हवालात में पुलिस पिटाई से रिंकू सिंह के मौत के मामले की जॉच अपर पुलिस अधीक्षक को सौपी गयी है। इसके 9 महीने पहले मंझनपुर कोतवाली के हवालात में पुलिस पिटाई से मुलायम सिंह की मौत हुयी थी लेकिन इस मौत पर भी प्रशासन ने तमाम जॉचे शुरू करायी लेकिन 9 महीने बाद भी मुलायम सिंह की हत्यारी पुलिस की जॉच पूरी नही हो सकी है। जिससे हत्यारी पुलिस का निलम्बन और जेल जाना सुनिश्चित हुआ।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it