Home > सडक हादसे में पिता पुत्र की मौत, परिजनों का रो रोकर बुरा हाल

सडक हादसे में पिता पुत्र की मौत, परिजनों का रो रोकर बुरा हाल

 शिव कुमार मिश्र |  2017-11-23 12:24:11.0  |  दिल्ली

सडक हादसे में पिता पुत्र की मौत, परिजनों का रो रोकर बुरा हाल

उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले के सैनी कोतवाली इलाक़े मे बाइक से बेटे व बेटी को स्कूल छोड़ने जा रहे पिता की बालू लदेट्रक से टक्कर हो गई. हादसा इतना जबरजस्त था कि छात्र कि मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. जबकि गंभीर रूप से घायल पिता-पुत्री को जिला अस्पताल भेजा गया, जिला अस्पताल मे उपचार के दौरान पिता की भी साँसे थम गई. इधर हादसे के बाद मौके पर जुटे ग्रामीणों ने सड़क पर स्पीड ब्रेकर बनाए जाने की माँग करते हुये सैनी लेहदरी मार्ग पर जाम लगा दिया. मौके पर पहुँचे देवीनग्ज़ पुलिस चौकी इंचार्ज जब ट्रक के खलासी को कोतवाली ले जाने लगे तो भीड़ ने उन्हे भी घेर लिया. हादसे की सूचना पर घटना स्थल सीओ सिराथू कई थानों की पुलिस को साथ लेकर पहुँचे और नाराज लोगों को समझाते हुये जाम हटवाया. पुलिस ने ट्रक चालक के खिलाफ मुक़दमा दर्ज कर दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

सैनी कोतवाली के लेहदरी गाँव निवासी मोहम्मद रज़्ज़ाक़ (45) अपने बेटी कक्षा 12 की छात्रा ज़ेबा (17) व बेटे कक्षा 4 के छात्र कौनेन को लेकर बाइक से स्कूल छोड़ने अंबाई बुजुर्ग स्थित महादेव सिंह बाल कन्या इंटर कालेज जा रहे थे| वह जैसे ही गाँव की गली से बाहर सड़क पर आए तभी सामने बालू लदा ट्रक आ गया. अचानक बाइक सामने आने से ट्रक चालक अनियंत्रित हो गया और दोनों मे जबरजस्त टक्कर हो गई. बाइक ट्रक मे फसकर कुछ दूर तक घिसटती चली गई और ट्रक सड़क किनारे पेड़ से जा टकराया. हादसा देख आस पास मौजूद लोग भाग कर मौके पर पहुँचे और ट्रक मे फसे पिता, पुत्र व बेटी को बाहर निकाला. हादसे मे मौके पर ही कौनेन की दर्दनाक मौत हो गई जबकि पिता-पुत्री गंभीर रूप से घायल हो गए. ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना देकर दोनों घायलों को जिला असपटल ले गए. उपचार के दौरान मोहम्मद रज़्ज़ाक़ कि भी मौत हो गई| डाक्टरों ने गंभीर रूप से घायल ज़ेबा को इलाहाबाद रेफर किया है.

हादसे के बाद जानकारी होने पर देवीगंज पुलिस चौकी इंचार्ज राजीव नारायण सिंह मौके पर पहुँचे और ट्रक के घायल खलासी को कोतवाली ले जाने लगे तो भीड़ भड़क गई और चौकी इंचार्ज से बहस करने लगी. नाराज ग्रामीणों ने सैनी-लेहदरी मार्ग पर कौनीन का शव रखकर जाम लगा दिया. सड़क जाम की सूचना पर सिराथू सीओ अंशुमान मिश्रा कई थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुँचे| सीओ ने नाराज लोगों को समझाते हुये स्पीड ब्रेकर बनवाने का आश्वासन दिया. जिसके बाद ग्रामीणों ने सड़क से जाम हटाया. तकरीबन दो घंटा तक सड़क जाम रहा. सीओ के मुताबिक ट्रक चालक के खिलाफ मुक़दमा दर्ज कर पिता-पुत्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

नितिन अग्रहरी

Tags:    
Share it
Top