Home > एसपी दफ्तर में जब दिखा पति पत्नी और वो का हाई-वोल्टेज ड्रामा

एसपी दफ्तर में जब दिखा पति पत्नी और वो का हाई-वोल्टेज ड्रामा

यूपी के कौशाम्बी जिले में पति पत्नी और वो का हाई वोल्टेज ड्रामा सामने आया है।

 Arun Mishra |  2017-10-31 08:28:09.0  |  New Delhi

एसपी दफ्तर में जब दिखा पति पत्नी और वो का हाई-वोल्टेज ड्रामा

कौशाम्बी : यूपी के कौशाम्बी जिले में पति पत्नी और वो का हाई वोल्टेज ड्रामा सामने आया है। एसपी कौशाम्बी के दफ्तर में हुए इस ड्रामे में काफी देर तक पुलिस अधिकारी और जवान बीच बचाव करते दिखे और जब बात नहीं बनी तो पुलिस वालो ने सभी को हिरासत में लेकर मंझनपुर थाने ले गई। जहाँ तकरीबन 4 घंटे की पंचायत के बाद सभी को समझा कर मामले में सुलह करा दी गई।

कौशाम्बी के एसपी दफ्तर के बाहर तस्वीरो में दिख रही इस महिला का नाम माया देवी है। जिसके अपहरण की रिपोर्ट इसके पिता सज्जन लाल ने 6 महीने पहले कोखराज थाने में दर्ज कराइ थी। जिस पर कार्यवाही करते हुए पुलिस ने अपहृत महिला माया को उसके जीजा मोनू के पास में बरामद कर लिया। अपहृत महिला माया और उसके जीजा मोनू को पुलिस सीधे एसपी के दफ्तर में लेकर पहुचे तो वह पहले से मौजूद मोनू की पत्नी सरिता ने जब अपनी छोटी बहन को अपनी पति के साथ देखा तो हंगामा शुरू कर दिया। जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने अपहरण के आरोपी जीजा मोनू को गिरफ्तार कर थाने ले जाने लगी। जिसके बचाव में अपहृत महिला माया ने अपने प्रेमी जीजा का बचाव शुरू कर दिया। कौशाम्बी के पुलिस आफिस में तकरीबन 1 घंटे चले इस हाई वोल्टेज ड्रामे में कई पुरुष और महिला सिपाही पूरी घटना का मोबाइल वीडियो बनाते नज़र आये।
इस पूरे मामले पर पीड़ित महिला सरिता का कहना है कि उसके पिता सज्जन लाल ने 6 महीने पहले उसकी छोटी बहन के अपहरण की रिपोर्ट दर्ज करायी थी।उसे शक था कि उसकी बहन हो न हो उसके खुद के पति मोनू के पास कही छिप कर रह रही है। शक के आधार पर उसने पुलिस को अपने पति को हिरासत में लेकर पूंछ-तांछ को कहा तो अपहरण का सच सबके सामने आ गया। जिसके बाद उसकी खुद की छोटी बहन ही उसके पति पर अपना हक जाता रही है। सरिता के मुताबिक उसे पुलिस से कोई कार्यवाही नहीं चाहिए केवल उसे उसका पति इस हिदायत के साथ पुलिस सौप दे कि वह उसके साथ रहेगा और अपने बच्चो का पालन- पोषण अच्छे से करेगा।
वही इस हाई प्रोफाइल पति पत्नी और वो के हाई वोल्टेज ड्रामे को सुलझाने में अपना सबसे कीमती समय बर्बाद करने के बाद अंत में पुलिस ने भी सभी को समझा कर दोनों बहनों में सुलह करा दी। फिलहाल पुलिस अधिकारी सुलह के बाद इस मामले पर कुछ भी कहने को तैयार नहीं है।
रिपोर्ट : नितिन अग्रहरि

Tags:    
Share it
Top